बिलासपुर व नागपुर के बीच मानवरहित क्रॉसिंग समाप्त, ट्रेनों की बढ़ेगी गति

रायपुर।

नागपुर-रायपुर-बिलासपुर रेल मार्ग पर आने वाले सभी रेलवे क्रॉसिंग सिस्टम को अपडेट कर दिया गया है। करीब चार सौ किमी के हिस्से में अब एक भी मानव रहित क्रॉसिंग नहीं है।

सभी रेलवे फाटक पर कर्मचारियों की तैनाती कर दी गई है या फिर इसे ऑटोमेटिक कर दिया गया है। इस मेन लाइन में 102 रेलवे क्रॉसिंग हैं, जिसको मानव रहित कर दिया गया है।

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। रेलवे के इस व्यवस्था से ट्रेनों की गति बढ़ाने में मदद मिलेगी। बिलासपुर जोन ने इसकी तैयारी भी शुरू कर दी है। जल्द ही कुछ ट्रेनों की गति बढ़ाने के लिए स्पीड कॉशन को हटाया जाएगा। हालांकि सेफ्टी की अन्य जांच के बाद ही इस पर मुहर लग सकेगी।

मंडल में अभी भी 22 मानवरहित क्रासिंग

रायपुर मंडल के वाल्टेयर और दल्लीराजहरा-गुदुम रेल रूट में रेलवे क्रॉसिंग को मानव रहित करने की चुनौती अभी भी है। इन दोनों ही रेल मार्ग में 22 ऐसे रेलवे फाटक हैं, जहां रेलवे का कोई भी कर्मचारी नहीं रहता।

यहां लोगों व वाहन चालकों को सावधानी रखकर पटरी पार करना होती है। हालांकि, अब जगह-जगह अंडरब्रिज बनाने का काम चल रहा है।

Back to top button