अनमैरिड बताकर कर ली शादी, जब कमरे में ले गया तो दो बच्चों और महिला

रायपुर.

छत्तीसगढ़ में एक दंपत्ति ने एक एेसी अपराधिक घटना को अंजाम दिया जिसकी किसी ने कल्पना भी नही की होगी। यह छत्तीसगढ़ की पहली घटना है जिसे धारावाहिक की तरह यह घटना हुई है। जहां एक व्यक्ति ने अपनी पहली पत्नी के रहते दूसरी शादी की और दूसरी पत्नी को दहेज के लिए प्रताडि़त किया।

यह पहला मौका है, जब एक व्यक्ति ने अपनी पहली पत्नी के रहते दूसरी शादी की और दूसरी पत्नी को दहेज के लिए प्रताडि़त किया। इतना ही नहीं कमरे में बंद करके दोनों ने पिटाई भी की। पीडि़ता की शिकायत पर फैमिली काउंसलिंग भी की गई। इसके बावजूद मामला नहीं सुलझा। पीडि़ता की शिकायत पर पुलिस ने पति और उसकी पहली पत्नी के खिलाफ अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया है।

पुलिस के मुताबिक नयापारा महासमुंद निवासी 30 वर्षीया युवती रायपुर में एक ब्यूटी पार्लर में काम करती थी। इसी दौरान उसकी मुलाकात हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी बोरियाकला निवासी संतलाल उंदेलकर से हुई। संतलाल ने खुद को अविवाहित बताया और उससे प्रेम-संबंध बनाया। करीब आठ माह पहले दोनों ने आर्य समाज मंदिर में शादी कर ली। इसके बाद युवती संतलाल को अपने घर ले जाने का कहने लगी। इतना ही नहीं कमरे में बंद करके दोनों ने पिटाई भी की।

इससे संतलाल आनाकानी करने लगा। वह अलग-अलग मोहल्ले में किराए का मकान लेकर रहता था। कुछ दिनों बाद युवती को पता चला कि संतलाल की दूसरी पत्नी राजश्री भी है, जो बोरियाकला में रहती है। और उसके दो बच्चे भी हैं।

शुरुआत में युवती ने इसका विरोध किया, लेकिन बाद में संतलाल के आश्वासन देने पर वह बोरियकला में उसकी पहली पत्नी के साथ रहने को तैयार हो गई। संतलाल के साथ उसके घर गई, तो उसकी पहली पत्नी ने उसे भगा दिया और दहेज लाने को कहने लगी। इसकी शिकायत उसने पुलिस में की। पुलिस ने तीनों की काउंसलिंग कराई। इससे भी मामला नहीं सुलझा।

Back to top button