राष्ट्रीय

उन्नाव रेप केस : कुलदीप सेंगर 7 दिन की सीबीआई रिमांड पर

लखनऊ: उन्नाव रेप केस के मुख्य आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को 7 दिन की सीबीआई रिमांड पर भेज दिया गया है. इससे पहले सीबीआई ने उसे कोर्ट में पेश किया था. कुलदीप सिंह सेंगर को शुक्रवार रात गिरफ़्तार किया गया था.

खबर है कि कोर्ट ले जाते वक्त आरोपी विधायक ने एक बयान में न्यायालय पर भरोसा जताया है. उधर, सीबीआई ने शशि सिंह नाम की एक महिला को भी गिरफ्तार किया है. शशि सिंह ने पीड़िता को विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के पास कथित तौर पर पहुंचाया था.

पीड़िता की मां ने उत्तर प्रदेश पुलिस को दी गई शिकायत में आरोप लगाया था कि महिला लालच देकर उसकी बेटी को विधायक के पास ले गई, जहां भाजपा नेता ने उससे कथित बलात्कार किया था. शिकायत में आरोप लगाया गया है कि जब विधायक उसकी बेटी से बलात्कार कर रहा था उस वक्त शशि सिंह गार्ड बनकर कमरे के बाहर खड़ी थी. पीड़िता की मां की शिकायत अब सीबीआई की प्राथमिकी का हिस्सा है.

उधर, कुलदीप सेंगर को शुक्रवार देर रात सीबीआई ने गिरफ्तार किया था. गौरतलब है कि इलाहाबाद हाईकोर्ट ने शुक्रवार को आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को गिरफ्तार करने का आदेश दिया था. कोर्ट ने कहा था कि आरोपी की हिरासत काफी नहीं है, उसे तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए. अदालत ने साथ में राज्य सरकार से 2 मई तक प्रगति रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा था. गुरुवार को हाईकोर्ट ने इस मामले में आरोपी विधायक के खिलाफ कार्रवाई न होने पर कड़ा रुख अपनाते हुए कहा था कि वह अपने आदेश में राज्य में कानून व्यवस्था चरमराने का जिक्र करने को मजबूर होगी.

गौरतलब है कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आवास के बाहर रेप पीड़िता महिला और उसके परिजनों ने खुदकुशी की कोशिश की थी. इसके बाद से ही इस मामले ने तूल पकड़ा है. महिला और उसके परिजनों का आरोप था कि उन्नाव से बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने पिछले साल जून में उससे रेप किया था.

महिला ने यह भी कहा कि इस मामले में एफआईआर दर्ज करवाने के बाद उन्हें लगातार धमकियां दी जा रही थी. इसके बाद रेप पीड़िता के पिता की पुलिस हिरासत में मौत हो गई थी. मामले में थाना प्रभारी समेत 6 पुलिसवालों को संस्पेंड किया गया था. साथ ही पिटाई के मामले में 4 लोगों को गिरफ़्तार किया गया था.

congress cg advertisement congress cg advertisement
Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.