जिले में चल रहा बेखौफ कबाड़ कारोबार, रातो- रात चोरी की वाहन हो रही गायब

मनीष शर्मा:

मुंगेली: बिलासपुर वृत्त अंतर्गत मुंगेली जिले में कबाड़ी कारोबारियों में चोरी की सामानों का आरपार का खेल लंबे समय समय से चल रहा रहा है। जिले-जिले में ऐसे चोर गिरोह का पर्दाफाश करने में एक बड़ी सफलता लगभग कुछ समय पूर्व तत्कालीन एसपी के नेतृत्व में मिली थी। जहाँ चोरी के लाखों के कबाड़ जब्त किए गए।

कबाड़ियों के ऊपर कार्यवाही के नाम पर अंकुश

उस घटना के बाद आज पर्यंत जिले में मानो कबाड़ियों के ऊपर कार्यवाही के नाम पर अंकुश लगा हुआ है। विश्वसनीय सूत्र की माने तो जो भी अभी कबाड़ी के कारोबारी में लिप्त है। वो पुलिस के संज्ञान में है। मगर उनकी बिना जानकारी अपना कारोबार नही कर रहे है। ऐसे में पुलिस और कबाड़ियों के बीच बिना तालमेल के यह कारोबार संचालित होने की संभावना नही प्रतीत होती है।

बता दें जिले ही नही मुंगेली शहर के भीतर ही की बात करे तो अनेको रिहायशी इलाके जैसे कृषि मंडी प्रांगण, स्टेट बैंक परिसर, पंजाब बैंक परिसर, दाउपाराचौक, स्कूल कालेज परिषर तहसील कार्यालयों गोलबाजार में प्रतिदिन दर्जनों मोटरसाइकिल, सायकल चोरी होते है मगर इनकी रिपोर्ट ना लिख इन्हें आसपास से पता लगाने की बात कहकर थानों से चलता कर दिया जाता है। जिससे अब पुलिस व्यवस्था के बीच मोटरसाइकिल चोरिया आम बात हो गई है।

ग्रामीणों क्षेत्रों में रातो रातो केबल पंप विद्युत पंप प्रवाहित सैकड़ों एकड़ के केबल चोरी हो जाते है मगर पुलिस सिर्फ पतासाजी के नाम पर आसपास, ढूंढने या संभावित चोर केनाम बताने के नाम बताकर चलता कर दे रही रही है। ऐसे में अब फिर से मुंगेली में चोर गिरोहों के हैसले मस्त है पुलिस की सही सुझबुझ चोरो के जखिरो को पकड़ने ना कामयाब है।

मजेदार बात यह भी है शहर भीतर सक्रिय कबाड़ियों का कारोबार बड़े ही छोटे से रूप में फैला दिखता है। मगर एक मुख्य असल अफरातफरी वाले काम का वर्कशाप शहर से दूर कही और स्थापित रहता है।

Back to top button