UP निकाय चुनाव : ईवीएम मशीनों में भी गड़बड़ी की शिकायतें, बाराबंकी में पुलिस की लाठीचार्ज

UP निकाय चुनाव : ईवीएम मशीनों में भी गड़बड़ी की शिकायतें, बाराबंकी में पुलिस की लाठीचार्ज

लखनऊ : उत्तर प्रदेश में हो रहे निकाय चुनाव के तीसरे और अंतिम चरण के तहत प्रदेश के 26 जिलों में मतदान के दौरान कुछ जिलों में ईवीएम मशीनों में भी गड़बड़ी की शिकायतें आई, लेकिन उन्हें समय रहते दूर कर लिया गया. कई मतदान केंद्रों पर लोगों ने अपना नाम मतदाता सूची में नहीं होने की शिकायत की.

बरेली के वार्ड 54 में बड़ी लापरवाही सामने आई. यहां 1,250 मतदाताओं में करीब 600 लोगों के नाम वोटर लिस्ट में नहीं थे और जिन लोगों के नाम लिस्ट में हैं उनमें से कई या तो मर चुके हैं या वार्ड को छोड़कर किसी अन्य स्थान पर जाकर बस चुके हैं.

बरेली के वार्ड नंबर 66 में मतदाता सूची में गड़बड़ी होने पर मतदाताओं ने हंगामा कर दिया. मतदाताओं का आरोप है कि वोटर लिस्ट में उनकी जाति पटवा लिखी है, लेकिन पर्ची में देवल लिखकर आई है. बूथ अधिकारी ने 10-12 लोगों को वोट डालने से रोक दिया, जिसको लेकर विरोध हुआ. लोगों का आरोप है कि बीएलओ (बूथ लेवल ऑफिसर) ने पहले ही जांच नहीं की, जिस कारण गड़बड़ी हो रही है.

वहीं, बाराबंकी में तो एक पोलिंग बूथ के पास दो सौ मीटर के अंदर मतदाताओं को पर्ची (मतदान पर्ची) बांटेे जाने के दौरान पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया. पुलिस ने यहां लाठीचार्ज में टेबल और कुर्सियों को ही तोड़ दिया.

उल्‍लेखनीय है कि तीसरे चरण में सहारनपुर, बागपत, बुलंदशहर, मुरादाबाद, संभल, बरेली, एटा, फिरोजाबाद, कन्नौज, औरैया, कानपुर देहात, झांसी, महोबा, फतेहपुर, रायबरेली, सीतापुर, लखीमपुर, बाराबंकी, बलरामपुर, सिद्घार्थनगर, महराजगंज, कुशीनगर, मऊ, चंदौली, जौनपुर और मिर्जापुर में मतदान हो रहा है.

तीसरे चरण के लिए 364 जोनल मजिस्ट्रेट, 890 सेक्टर मजिस्ट्रेट और 233 रिटर्निंग अधिकारी नियुक्त किए गए हैं. शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए अर्धसैनिक बलों की 40 कंपनियों के साथ पीएसी की 71 कंपनियां तैनात की गई हैं. 361 पुलिस निरीक्षक, 7,333 उप निरीक्षक, 4,590 हेड कांस्टेबल, 36,111 कांस्टेबल और 14,291 होमगार्ड तैनात किए गए हैं.

Back to top button