राष्ट्रीय

रोहिणी और साकेत कोर्ट के बाहर हंगामा-प्रदर्शन, वकील ने की आत्मदाह की कोशिश

दायर एक याचिका पर दिल्ली हाई कोर्ट आज करेगा सुनवाई

नई दिल्ली: दिल्ली जिला अदालतों के वकील तीस हजारी अदालत की घटना के विरोध में बुधवार को न्यायिक कार्य का बहिष्कार जारी रखने का फैसला लिया है. दिल्ली जिला अदालत समन्वय समिति ने एक विज्ञप्ति में कहा, “दिल्ली की सभी जिला अदालतों में काम करने से रोक बुधवार को भी जारी रहेगी.”

इसी क्रम में वकीलों ने रोहिणी और साकेत कोर्ट के बाहर हंगामा-प्रदर्शन शुरू कर दिया है. इस दौरान एक वकील ने आत्मदाह करने की भी कोशिश की. इसके अलावा प्रदर्शनकारियों ने साकेत कोर्ट परिसर का दरवाजा अंदर से बंद कर दिया है और लोगों को अंदर जाने नहीं दिया जा रहा है.

तीस हजारी कोर्ट परिसर में वकीलों और पुलिसकर्मियों के बीच झड़प के संबंध में दायर एक याचिका पर दिल्ली हाई कोर्ट आज सुनवाई करेगा. यह याचिका दिल्ली पुलिसकर्मियों ने 2 नवंबर को दायर की थी.

इस याचिका पर दोपहर 3 बजे के आसपास सुनवाई होगी. याचिका हाईकोर्ट में दायर की गई है, क्योंकि दिल्ली पुलिस अपने दम पर आंदोलनकारियों की मांगों को पूरा नहीं कर सकती है.

Tags
Back to top button