अमेरिका ने कोरियाई प्रायद्वीप के ऊपर उड़ाए बमवर्षक और स्‍टेल्‍थ लड़ाकू विमान

सोल: उत्तर कोरिया के हालिया परमाणु और मिसाइल परीक्षणों के बाद अपनी ताकत दिखाते हुए अमेरिका ने सोमवार को कोरियाई प्रायद्वीप के ऊपर चार स्टेल्थ (रडार की आंखों से ओझल होने में सक्षम) लड़ाकू जेट विमानों और दो बमवर्षक विमानों को उड़ाकर अभ्यास किया. दक्षिण कोरिया की योनहैप समाचार एजेंसी ने सोल में अज्ञात सरकारी सूत्र के हवाले से कहा कि चार एफ-35बी स्टेल्थ लड़ाकू विमानों और दो बी-1बी बमवर्षक विमानों ने सुबह प्रायद्वीप के ऊपर ‘मॉक बमबारी अभ्यास’ में हिस्सा लिया.

इसमें इस बात की पुष्टि करते हुए कहा गया कि तीन सितंबर को उत्तर कोरिया के छठे और सबसे शक्तिशाली परमाणु परीक्षण करने तथा पिछले शुक्रवार को जापान के ऊपर अंतरमहाद्वीपीय रेंज की मिसाइल का परीक्षण करने के बाद से यह पहली उड़ान थी.

योनहैप ने सूत्र के हवाले से कहा कि जापान और गुआम में अपने अपने वायुसेना अड्डों पर वापस आने से पहले अमेरिकी जेट विमानों ने चार दक्षिण कोरियाई एफ-15के लड़ाकू विमानों के साथ प्रशिक्षण किया था. इससे पहले 31 अगस्त को भी इसी तरह का अभ्यास किया गया था. बहरहाल अमेरिकी सेना तत्काल हालिया उड़ानों की पुष्टि नहीं कर सकी.

Back to top button