अमेरिका ने फिलिस्तीन को मिलने वाली $65 मिलियन की मदद रोकी

यूएस के अधिकारियों का कहना है कि इस फैसले का असर हजारों लोगों पर पड़ेगा

अमेरिका ने फिलिस्तीन को मिलने वाली $65 मिलियन की मदद रोकी

अमेरिका ने फिलिस्तीन के लिए यूएन रिलीफ एजेंसी को दी जाने वाली 125 मिलियन डॉलर की मदद में से लगभग आधी रकम (65 मिलियन डॉलर) पर रोक लगा दी है। यह जानकारी अमेरिका के अधिकारियों ने दी है। अमेरिका ने तय किया है कि वह फिलिस्तीन के लिए काम करने वाली यूएन रिलीफ ऐंड वर्क एजेंसी (UNRWA) को वह अब 60 मिलियन डॉलर की मदद देगा, जबकि 65 मिलियन डॉलर की रकम नहीं दी जाएगी।

यूएस के अधिकारियों का कहना है कि इस फैसले का असर हजारों लोगों पर पड़ेगा। राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने पिछले दिनों कहा था कि यदि फिलिस्तीन इजरायल के साथ शांति के प्रयासों को नकारता है तो अमेरिका इसे जाने वाली मदद रोक सकता है। अमेरिका हर साल यूएन की ऐजेंसी के 30 प्रतिशत हिस्से को फंड करता है। ऐसे में अमेरिका यूएनआरडब्ल्यूए को पिछले साल 370 मिलियन डॉलर रुपये दे चुका है, लेकिन इस साल 125 मिलियन डॉलर की पहली किश्त में ही उसने 65 मिलियन डॉलर की रकम रोक ली है।

रविवार को फिलिस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने ट्रंप के मिडिल ईस्ट शांति प्रयासों पर हमला बोलते हुए कहा था कि वह अमेरिका से आए किसी भी शांति प्रस्ताव को स्वीकार नहीं करेंगे क्योंकि पिछले साल अमेरिका ने येरूशलम को इजरायल की राजधानी के तौर पर मान्यता दी थी।

अमेरिकी अधिकारियों का कहना है कि यूएस ने इसस मदद को भविष्य के लिए रोका है। इसे लेकर कई परिस्थितियों पर विचार किया जाएगा। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कुछ दिनों पहले ही कहा था कि मदद के बदले अमेरिका का कोई सराहना या सम्मान नहीं मिलता है।

Back to top button