छत्तीसगढ़

उत्तर बस्तर कांकेर : शिक्षक पंचायत संवर्ग का 01 नवंबर 2020 को होगा संविलियन

जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. संजय कन्नौजे ने जिला पंचायत के सभा कक्ष में जिला शिक्षा अधिकारी एवं जिले के विकासखण्ड शिक्षा अधिकारियों की बैठक लेकर ऐसे शिक्षक पंचायत संवर्ग (पंचायत/नगरीय निकाय) के जिन्होनें दो वर्ष की अथवा उससे अधिक की सेवा पूर्ण कर लिया है

उत्तर बस्तर कांकेर 09 अक्टूबर 2020 : जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. संजय कन्नौजे ने जिला पंचायत के सभा कक्ष में जिला शिक्षा अधिकारी एवं जिले के विकासखण्ड शिक्षा अधिकारियों की बैठक लेकर ऐसे शिक्षक पंचायत संवर्ग (पंचायत/नगरीय निकाय) के जिन्होनें दो वर्ष की अथवा उससे अधिक की सेवा पूर्ण कर लिया है, उसका स्कूल शिक्षा विभाग में संविलियन किये जाने के निर्देश समस्त खण्ड शिक्षा अधिकारियों को दिये हैं।

सूची का प्रकाशन 09 अक्टूबर से 16 अक्टूबर तक

उन्होंने खण्ड शिक्षा अधिकारियों को अपने-अपने विकासखण्डों में कार्यरत शिक्षक पंचायतों की प्रारम्भिक सूची का प्रकाशन 09 अक्टूबर से 16 अक्टूबर तक विकासखण्ड शिक्षा कार्यालय में करने तथा दावा आपत्ति स्वीकार करते हुये उसका निराकरण कर 19 अक्टूबर तक कर अंतिम वरिष्ठता सूची का प्रकाशन करने के निर्देश दिये।

अंतिम वरिष्ठता सूची के आधार पर 20 अक्टूबर को जिला शिक्षा अधिकारी के माध्यम से संचालक स्कूल शिक्षा विभाग को संविलियन हेतु प्रस्ताव भेजा जाएगा। जिला पंचायत के सीईओ डॉ. कन्नौजे ने बताया कि जिले में 553 व्याख्याता पंचायत, 63 शिक्षक पंचायत, 277 सहायक शिक्षक पंचायत, सहायक शिक्षक पंचायत विज्ञान 51 तथा व्यायाम शिक्षक पंचायत 21 की प्रारंभिक सूची अनुसार संविलियन किया जाएगा।

जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. कन्नौजे ने सभी विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी एवं जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिये हैं कि जो शिक्षक अनाधिकृत रूप से अनुपस्थित है, उनके आरोप पत्र विभागीय जॅाच हेतु संस्थित करें तथा संविलियन से वंचित रहने वाले शिक्षक संवर्ग की कारण सहित समस्त दस्तावेजों के साथ सूची प्रस्तुत किया जाये। उन्होंने कहा कि जो भी संविलयन के पूर्व शिक्षक पंचायतों के क्लेम बचे हैं, उनका संविलियन पूर्व शीघ्र निराकरण किया जावे। बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी राकेश पाण्डेय, एपीओ शिक्षा संजीत श्रीवास्तव तथा सभी विकासखण्ड के खण्ड शिक्षा अधिकारी उपस्थित थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button