उत्तर प्रदेश : पिछले 24 घंटे में मिले कोरोना के 5,649 नए संक्रमित मरीज

रिकवरी दर हुई 75.67 प्रतिशत

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना (Coronavirus) के 5,649 नए मामले सामने आए हैं। राज्य में कोरोना (Coronavirus) के सक्रिय मामलों की संख्या अब बढ़कर 62,144 हो गई है। अब राज्य में कुल 2,05,731 लोग इलाज के बाद पूरी तरह ठीक होने के बाद घर भेजे जा चुके हैं। राज्य में संक्रमण के बाद कुल 3,976 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें बीत चौबीस घंटे में 56 लोगों की मौत हुई है।

प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने सोमवार को बताया कि राज्य की विभिन्न प्रयोगशालाओं में रविवार को कुल 1,30,464 कोरोना नमूनों की जांच की गई। इसके साथ ही प्रदेश अब कुल जांच का आंकड़ा 66,31,318 हो गया है।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में वर्तमान में कुल सक्रिय मरीजों में से 32,724 लोग होम आइसोलेशन यानि घर पर रहकर इलाज की सुविधा का लाभ ले रहे हैं। यह कुल सक्रिय मरीजों का 52.65 प्रतिशत है। इसके अलावा निजी अस्पतालों में 2,912 और होटल में एल-1 प्लस की सेमिपेड फैसिलिटी में 251 लोग रह रहे हैं। शेष राज्य सरकार की एल-1, एल-2 व एल-3 की व्यवस्था के तहत सरकारी अस्पतालों में भर्ती हैं।

यह भी पढ़ें :-बलौदाबाजार : 112 बिस्तर नये कोविड केयर सेंटर की हुई शुरुआत

उन्होंने बताया कि कोरोना को लेकर केस फैटेलिटी रेट (सीएफआर) यानी मामलों में मृत्यु दर की बात करें तो अब यह घटकर अब 1.46 प्रतिशत हो गई है। वहीं मरीजों के तेजी से ठीक होने के फलस्वरूप रिकवरी का प्रतिशत भी बढ़ रहा है और अब यह लगभग 75.67 प्रतिशत हो गया है।

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने कहा कि 01 सितम्बर से 06 तक जांच के तरीकों के हिसाब से पॉजिटिविटी को देखें तो रैपिड एंटीजन टेस्ट के जरिए पॉजिटिविटी 3.7 प्रतिशत रही। इसमें आधे घण्टे के भीतर रिपोर्ट आ जाती है। ट्रूनैट के जरिए यह 15.4 प्रतिशत रही। ट्रूनेट के जरिए आमतौर पर अस्पताल में भर्ती होने के लिए आने वाले लोगों की कोरोना जांच की जाती है। आरटीपीसीआर की जांच में पॉजिटिविटी 5.4 प्रतिशत रही।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button