उत्तर प्रदेशराज्य

भगवान राम की जन्मभूमि अयोध्या के बाद तपोभूमि चित्रकूट जाएंगे CM योगी

भगवान राम की जन्मभूमि अयोध्या में दिवाली मनाने के बाद अब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ चित्रकूट जाएंगे. चित्रकूट में भगवान राम ने अपने वनवास का समय बिताया था.

सृष्टि के अनादि तीर्थ चित्रकूट को भगवान् राम का दिव्य धाम कहा जाता है. इसको भगवान राम की तपोभूमि भी कहा जाता है.

मानव सभ्यता के विकास और विभिन्न संस्कृतियों का इतिहास समेटे चित्रकूट की यह धरती ऋषि-मुनियों की पावन तपोभूमि रही है.

हाल ही में स्वीडन के म्युजियम ऑफ नेचुरल हिस्ट्री के शोधकर्ताओं ने पृथ्वी पर पौधे के रूप में मौजूद जीवन के सर्वाधिक पुराने सबूत के तौर पर चित्रकूट की चट्टानों में दबे करीब 160 करोड़ वर्ष पुराने लाल शैवाल के जीवाश्म की खोज की थी.

योगी से चित्रकूट को बड़ी उम्मीद

योगी सरकार लगातार सूबे के धार्मिक स्थलों के विकास की बात कर रही है. इसी कड़ी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राम की जन्मस्थली अयोध्या में दीवाली पर भव्य आयोजन किया था और वहां के विकास के लिए कई बड़ी विकास योजनाओं की घोषणा की.

लिहाजा अब योगी सरकार से लोग चित्रकूट के विकास के लिए बड़ी आशाएं लगाए हुए हैं. मुख्यमंत्री बनने के बाद योगी आदित्यनाथ का यह पहला चित्रकूट दौरा है.

मत्स्यगयेंन्द्रनाथ मंदिर में करेंगे पूजा अर्चना

चित्रकूट पहुंचने पर योगी सबसे पहले यहां प्रवाहमान मंदाकिनी नदी के किनारे स्थित मत्स्यगयेंन्द्रनाथ महादेव मंदिर जाकर वहां पूजा आरती करेंगे.

चित्रकूट की महिमा और उसकी आध्यात्मिक शक्ति को ही देखकर महर्षि भरद्वाज व महर्षि वाल्मीकि ने भगवान राम को वनवास का समय शान्तिपूर्वक बिताने के लिए चित्रकूट में वास करने का परामर्श दिया था.

विश्व पटल के मानचित्र पर चित्रकूट को मिले जगह

अधिकारी कामदगिरी प्रमुख द्वार के महंत मदन गोपाल दास जी महाराज का कहना है कि चित्रकूट में भगवान राम ने साढ़े ग्यारह वर्ष तक रहकर तपस्या की और यह उनकी कर्मभूमि भी है.

ऐसे में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से हमारी यही अपेक्षा रहेगी कि जिस तरह से विश्व पटल पर एक विशेष पर्यटन का हिस्सा खजुराहो को बनाया गया है….वहां विशेष सुविधाएं दी गई हैं, उसी प्रकार से चित्रकूट धाम को विश्व पटल पर एक मानचित्र पर एक हिस्सा मिले.

यहां पर विश्व भर से तीर्थयात्री आते हैं, लेकिन यहां उनको वैसी सुविधायें नहीं मिल पाती हैं. इसके अलावा यहां पर हर अमावस्या को हजारों-लाखों की संख्या में तीर्थयात्री आते हैं.

चित्रकूट को विशेष पर्यटन स्थल घोषित करें सीएम योगी

महंत मदन गोपाल दास जी महाराज का कहना है कि हम योगी आदित्यनाथ से यही चाहेंगे कि वो चित्रकूट को विशेष पर्यटक स्थल घोषित करें और यहां पर विकास करें.

भगवान राम की तपोस्थली और कर्मस्थली के रुप में इसको विशेष स्थान मिले. चित्रकूट धाम के लिए ऐसी मांग हम लंबे समय से करते आ रहे हैं.

भगवान राम ने जोड़ा चित्रकूट और अयोध्या का नाता

रामायणी कुटी चित्रकूट के महंत रामहृदय दास जी महाराज का कहना है कि चित्रकूट और अयोध्या को जोड़ने वाले हमारे आराध्य भगवान राम हैं और उन्होंने अपनी यात्रा के पड़ाव का सबसे अधिक समय चित्रकूट में बिताया है.

चित्रकूट में उन्होंने तपस्या करके रावण को मारने की शक्ति प्राप्त की. यहां से आगे जाकर उनकी यात्रा सफल हो पाई थी. इसलिए ये भगवान राम का दिया हुआ संबंध है, जो अटूट है. हमेशा से चित्रकूट और अयोध्या दोनों एक-दूसरे के पूरक रहे हैं.

‘राजनीति में धर्म लाते हैं योगी आदित्यनाथ’

महंत रामहृदय दास का कहना है कि हमारे सीएम योगी विशुद्ध महात्मा हैं और महात्मा होने के साथ-साथ समाज ने उनको राजनेता के रूप में भी स्वीकार किया है, लेकिन वो धर्म में राजनीति नहीं करते, बल्कि राजनीति में धर्म को लाते हैं.

इसलिए योगी इस बात के लिए हमेशा हमेशा बधाई के पात्र हैं और अगर वो चित्रकूट आ रहे हैं, तो हम सब संत समाज उनका स्वागत करेंगे. उन्होंने कहा कि सीएम योगी से संत समाज और यहां के जनमानस को काफी अपेक्षाएं हैं.

सूबे के सभी तीर्थस्थलों का विकास चाहते हैं योगी

संतोषी अखाड़ा के महंत रामजी दास महाराज की माने तो मुख्यमंत्री योगी सिर्फ चित्रकूट के लिए ही नहीं, बल्कि सूबे के सभी तीर्थस्थलों के विकास के लिए सोचते हैं.

उन्होंने कहा कि हमारा मानना है कि चित्रकूट थोड़ा एकांत पड़ता है, तो अनेक तीर्थस्थलों से कटा हुआ है. हम उनसे यही मांग करेंगे कि वो इसके विकास के लिए कदम उठाएं.

संत समाज चित्रकूट के अध्यक्ष सीताशरण दास जी महाराज ने कहा कि योगी एक महात्मा और प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं. हमको पूरा विश्वास है कि चित्रकूट का विकास होगा.

चित्रकूट की जो दिशा है, उस पर वो ध्यान देंगे. किसानों पर ध्यान देंगे और धार्मिक स्थलों के अधिक से अधिक विकास करने की कोशिश करेंगे.

कई योजनाओं का होगा शुभारंभः बीजेपी सांसद

बांदा-चित्रकूट से बीजेपी सांसद भैरो प्रसाद मिश्र का कहना है कि उन्हें सीएम योगी से बहुत उम्मीदें हैं. उनके अयोध्या में दीपावली मनाने और वहां विकास योजनाओं की घोषणा करने से पूरे प्रदेश में अच्छा संदेश गया है.

प्रदेश के लोगों को लग रहा है कि पहली बार कोई सरकार आई है, जो हमारे तीर्थस्थलों पर ध्यान दे रही है और इसी वजह से वह चित्रकूट भी आ रहे हैं.

मिश्र ने कहा कि हमें पूरा विश्वास है कि चित्रकूट में पर्यटन की योजनाओं का शुभारंभ और कई योजनाओं का शिलन्यास उद्घाटन होने वाला है.

इसके साथ ही हमें यहां पर बहुत सी चीजें करने की जरूरत हैं. इसमें चित्रकूट को फ्री जोन पारित करने की घोषणा भी शामिल है.

Summary
Review Date
Reviewed Item
CM योगी
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.