उत्तरप्रदेश के सिंचाई मंत्री ने छत्तीसगढ़वासियों को प्रयागराज के कुम्भ में आने का न्यौता दिया

रायपुर:

उत्तरप्रदेश के प्रयागराज में देश के सबसे बड़े कुंभ का आगाज 15 जनवरी को पहले शाही स्नान के साथ होने वाला है।प्रयागराज में होने वाले कुम्भ- 2019 के लिए छत्तीसगढ़वासियों को न्योता देने उत्तरप्रदेश के सिंचाई मंत्री धरमपाल सिंह छत्तीसगढ़ आए हुए थे।मंत्री धरमपाल सिंह ने राजधानी के एक निजी होटल में प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि प्रयागराज का कुम्भ भारत की महान परंपरा का प्रतिनिधित्व करता है।

15 जनवरी 2019 से प्रयागराज में प्रारंभ हो रहे कुंभ के माध्यम से सर्वसाधारण को अपने अतीत के साथ एक बार फिर जुड़ने का अवसर प्राप्त होगा ।प्रयागराज में कुंभ के आयोजन को प्रधानमंत्री के प्रयासों से यूनेस्को द्वारा विश्वास विश्व धरोहर के रूप में सम्मान दिया गया।

वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रयासों से जनमानस की भावनाओं के अनुरूप इलाहाबाद का नाम प्रयागराज बदलकर इसकी ऐतिहासिक एवं पुरानी प्रतिष्ठा को स्थापित किया गया। राज्य सरकार कुंभ के भव्य दिव्य आयोजन के लिए कटिबद्ध है।उन्होंने कहा कि कुंभ में आने वाले श्रद्धालुओं और पर्यटकों को सभी प्रकार की सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी ।

राज्य सरकार द्वारा इस आयोजन की प्रकृति के अनुरूप प्रयागराज के कुंभ 2019 का नया लोगो भी लॉन्च किया गया है। इसके साथ ही विकास की प्रक्रिया यहां निरंतर चलती रहे, इसके लिए राज्य सरकार द्वारा प्रयागराज मेला प्राधिकरण का गठन भी किया गया है।

मंत्री धरमपाल सिंह ने बताया कि 30 दिसंबर 2018 को 3000 क्यूसेक गंगाजल छोड़ा जाएगा ,ताकि कुंभ में श्रद्धालु शाही स्नान का पुण्य लाभ बेहतर तरीके से उठा सकें ।इसके साथ ही 15 जनवरी को पहला शाही स्नान होगा जो मकर संक्रांति के शुभ अवसर पर होगा।

advt
Back to top button