लखनऊ में आयोजित ‘इन्वेस्टर मीट’ की सजावट में खर्च हो गए 65 करोड़ 15 लाख रुपये

वहीं लखनऊ विकास प्राधिकरण जिसने कुल 13 करोड़ 8 लाख की रकम खर्च की. इसके बाद पीडब्लूडी विभाग करीब साढ़े 12 करोड़ खर्च किए. कुल मिलाकर उत्तर प्रदेश में निवेश के लिए बुलाए गए इस सम्मेलन में 65 करोड़ 15 लाख का खर्च अलग-अलग विभागों ने किया है.

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में आयोजित किए गए ‘इन्वेस्टर मीट’ में सरकार ने 65 करोड़ 15 लाख रुपये सिर्फ़ सजावट के लिए खर्च किए. लखनऊ के डीएम कौशल राज शर्मा ने दो दिन के समारोह के दौरान हुए खर्च का ब्यौरा देते हुए कहा कि सम्मेलन के दौरान सबसे ज़्यादा 24 करोड़ 25 लाख का खर्च नगर निगम ने सजावट में किए हैं.

वहीं लखनऊ विकास प्राधिकरण जिसने कुल 13 करोड़ 8 लाख की रकम खर्च की. इसके बाद पीडब्लूडी विभाग करीब साढ़े 12 करोड़ खर्च किए. कुल मिलाकर उत्तर प्रदेश में निवेश के लिए बुलाए गए इस सम्मेलन में 65 करोड़ 15 लाख का खर्च अलग-अलग विभागों ने किया है.

आपको बता दें कि लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित यूपी इनवेस्टर्स समिट में पीएम मोदी, मुकेश अंबानी, अडानी और आनंद महिंद्रा सहित कई उद्योगपतियों ने हिस्सा लिया था.

पीएम मोदी ने समारोह में कहा कि जब परिवर्तन होता है, तो सामने दिखता है. उत्तर प्रदेश में इतने व्यापक स्तर पर इन्वेस्टर समिट होना, इन्वेस्टर समिट में इतने निवेशकों और उद्यमियों का एकजुट होना, अपने आप में एक बड़ा परिवर्तन है.

उन्होंने कहा कि मैं यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनके मंत्रिमंडल के उनके सहयोगियों, ब्यूरोक्रेसी, पुलिस, और उत्तर प्रदेश की जनता को बधाई देता हूं कि वो अपने उत्तर प्रदेश को इतने कम समय में समृद्धि और विकास के रास्ते पर ले आई है. उन्होंने कहा कि अब यूपी विकास के रास्ते पर है.

Back to top button