फतेहपुर सीकरी: भीड़ ने स्विस जोड़े को पीटा, सुषमा ने मांगी रिपोर्ट

आगरा: भारत घूमने आए स्विस प्रेमी जोड़े को यूपी के फतेहपुर सीकरी में ऐसी परिस्थितियों का सामना करना पड़ा, जिसके बारे में उन्होंने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा।

रविवार को फतेहपुर सीकरी में युवाओं के समूह ने पत्थर और डंडों से स्विटजरलैंड के लुजाने के रहने वाले प्रेमी जोड़े पर हमला कर दिया। खून से लथपथ विदेशी पर्यटक सड़क पर पड़े हुए थे और राहगीर विडियो बनाते रहे।

इस बीच विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने विदेशियों की पिटाई पर सख्त नाराजगी जताई है और उन्होंने राज्य सरकार से जवाब मांगा है। उन्होंने कहा कि विदेश मंत्रालय के अधिकारी हॉस्पिटल जाकर स्विस नागरिकों से मिलेंगे।

गत 30 सितंबर को अपनी गर्लफ्रेंड मेरी द्रोज के साथ भारत आए क्यून्टीन जेर्मी क्लॉर्क दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती हैं। उन्होंने बताया कि रविवार को वे फतेहपुर सिकरी रेलवे स्टेशन के नजदीक घूम रहे थे।

इसी बीच युवाओं के एक समूह ने उनका पीछा करना शुरू कर दिया। द्रोज ने कहा, ‘शुरू में उन्होंने कॉमेंट किया जिसे हम समझ नहीं सके और बाद में उन्होंने जबरन हमें रोक दिया ताकि वे मेरी के सेल्फी ले सकें।’

स्विस पर्यटकों की यह प्रताड़ना जल्द ही हमले में बदल गई। पीछा कर रहे युवाओं ने क्लॉर्क का सिर फोड़ दिया। उधर, क्लॉर्क का इलाज कर रहे डॉक्टरों ने बताया कि उन्हें अब एक कान से कम सुनाई देगा। इस हमले में उनकी गर्लफ्रेंड को भी चोटें आई हैं।

क्लॉर्क ने बताया कि हमले के बाद वे खून से लथपथ होकर सड़क पर पड़े हुए थे और आसपास से गुजरने वाले लोग इलाज कराने की बजाय मोबाइल से विडियो बना रहे थे।

क्लॉर्क ने कहा, ‘विरोध के बाद भी उन लड़कों ने हमारा पीछा करना बंद नहीं किया। पूरे रास्ते वे फोटो लेते रहे और मेरी के करीब जाने का प्रयास करते रहे। जितना हम समझ सके, उसके मुताबिक वे हमारा नाम और हमारे देश के बारे में जानना चाहते थे। वे हमें प्राताडि़त कर रहे थे।

वे हमें अपने साथ कुछ जगहों पर ले जाना चाहते थे जिसे हमने मना कर दिया। इसके बाद उन्होंने पत्थरों और डंडों से मुझ पर हमला कर दिया। जब मेरी ने मुझे बचाना चाहा तो उसे भी पीट दिया। उधर, इस संबंध में आगरा पुलिस ने एक मामला दर्ज जांच शुरू कर दी है।

advt

Back to top button