रोटी के लिए दर-दर भटक रही मां ने तीन संपन्न कारोबारी बेटों पर किया मुकदमा

जौनपुर: उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले में एक मां ने दो वक्त की रोटी के लिए अपने तीन-तीन लखपति बेटों पर मुकदमा किया है.

मामला महाराजगंज थाना क्षेत्र के कोल्हुआ गांव का है, जहां की रहने वाली साठ वर्षीय सीता देवी के तीन बेटे हैं, जो प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करते हैं.

सीता देवी के तीनों बेटे अलग-अलग रहते हैं और तीनों ने चार-चार महीने मां का भरण पोषण करने का वादा किया था, लेकिन बाद में किनारा कर लिया.

दो वक्त का भोजन नहीं जुटा पा रही, वृद्धा की स्थिति देख ग्रामीण उनके भोजन का इंतजाम कर रहे हैं. अब अपने तीन लखपति बेटों से भरण पोषण की मांग करते हुए वृद्धा ने न्यायालय में मुकदमा दायर किया है.

परिवार न्यायालय के न्यायाधीश ज्ञान प्रकाश तिवारी ने तीनों बेटों के खिलाफ नोटिस जारी करते हुए 24 अक्टूबर तिथि नियत की है.

सीतादेवी ने बेटे अशोक, रामकुमार व विजय से 5,000 रुपये भरण पोषण की मांग करते हुए केस दायर किया.

वृद्धा ने बताया, “उसके पति की मृत्यु 1990 में हो चुकी थी और प्रॉपर्टी पर लड़कों का नाम चढ़ गया. बेटों में तय हुआ कि बारी-बारी चार-चार महीने मां का भरण-पोषण करेंगे, लेकिन बाद में तीनों बेटों ने किनारा कर लिया.”

गांव वालों ने उसकी लाचारी पर तरस खाकर उसे खाना वगैरह दे देते हैं. वह भुखमरी की कगार पर है, जबकि तीनों बेटे बड़े कारोबारी हैं.

Back to top button