आज से 18 साल से अधिक उम्र के हर नागरिक को मुफ्त में उपलब्ध होगी वैक्सीन

अभी भी प्राइवेट अस्पतालों में पैसे देकर वैक्सीन लगवाने का ऑप्शन मिलेगा

नई दिल्ली:कोरोना वायरस को मात देने के लिए देश में आज से देश में 18 साल से अधिक उम्र के हर नागरिक को मुफ्त में वैक्सीन उपलब्ध होगी. केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा ये सुविधा दी जा रही है. हालांकि, अभी भी प्राइवेट अस्पतालों में पैसे देकर वैक्सीन लगवाने का ऑप्शन मिलेगा.

केंद्र सरकार की ओर से अभी तक 45 साल से अधिक उम्र वाले लोगों को मुफ्त टीका दिया जा रहा था, वहीं 18 साल से अधिक उम्र वालों के लिए अधिकतर राज्य सरकारों ने अपनी ओर से मुफ्त वैक्सीन का ऐलान किया था.

एक मई से 18 साल से अधिक उम्र वालों के लिए टीकाकरण शुरू हुआ, लेकिन राज्य सरकारों के लिए आ रही तमाम दिक्कतों के बीच अब इसे फिर से बदल दिया गया है. अब केंद्र सरकार की ओर से राज्यों को वैक्सीन दी जाएगी और आगे लोगों को लगेगी.

मिशन वैक्सीनेशन में आज से क्या बदल जाएगा?

वैक्सीनेशन का अभियान जिस तरह से चल रहा है, जमीनी स्तर पर वैसे ही चलेगा. सिर्फ बदलाव ये होगा कि अभी तक राज्य सरकारें वैक्सीन प्रोडक्शन का जो 25 फीसदी हिस्सा ले रही थीं, वो अब नहीं लेंगी. अब केंद्र सरकार 75 फीसदी हिस्सा खुद खरीदेगी, राज्य की जनसंख्या, कोरोना केस और वैक्सीनेशन की रफ्तार के आधार पर राज्यों को वैक्सीन दी जाएगी. यही वैक्सीन सभी सरकारी, जिला, राज्य के सरकारी अस्पतालों में मुफ्त मिलेगी.

वैक्सीन लगवाने के लिए क्या करना होगा?

वैक्सीनेशन की प्रक्रिया अभी भी बिल्कुल वैसी ही है. अगर आप 18 साल से अधिक उम्र वाले हैं, तो कोविन पोर्टल (https://www.cowin.gov.in/home) या आरोग्य सेतु ऐप पर अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं. हालांकि, अब ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाने की कोई अनिवार्यता नहीं है. अगर आप ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन नहीं करवाते हैं और सीधे वैक्सीनेशन सेंटर पर पहुंच जाते हैं, तब भी आपको टीका लग सकता है.

अब वैक्सीनेशन सेंटर पर ही तुरंत रजिस्ट्रेशन होकर टीका लग सकता है. हालांकि, अभी भी लोग अपनी सुविधा को देखते हुए पहले ही वैक्सीन स्लॉट चेक कर ऑनलाइन बुकिंग करवाने का रास्ता अपना रहे हैं.

प्राइवेट अस्पतालों में भी मुफ्त में लगेगी वैक्सीन?

नहीं, ऐसा नहीं होगा. सरकार ने कुल वैक्सीनेशन का 25 फीसदी हिस्सा प्राइवेट अस्पतालों के लिए छोड़ा है. यहां पर पैसे देकर आप वैक्सीन की डोज़ लगवा सकते हैं, प्राइवेट अस्पतालों में कोविशील्ड, कोवैक्सीन और स्पुतनिक-वी वैक्सीन उपलब्ध है. प्राइवेट अस्पतालों में कोविशील्ड 780, कोवैक्सीन 1410, स्पुतनिक-वी 1145 रुपये में प्रति डोज़ लग पाएगी.

भारत में वैक्सीनेशन की क्या है रफ्तार

देश में टीकाकरण अभियान अब तेज़ी से आगे बढ़ रहा है. भारत में अभी एक दिन में औसतन 30 से 35 लाख वैक्सीन की डोज़ लग रही हैं. देश में अभी तक करीब 28 करोड़ वैक्सीन की डोज़ लग चुकी हैं. हालांकि, जनसंख्या के हिसाब से अभी काफी लोगों को डोज़ लगना बाकी है. जुलाई-अगस्त से वैक्सीन प्रोडक्शन बढ़ने के बाद टीकाकरण की रफ्तार भी बढ़ सकती है. केंद्र का लक्ष्य है कि अगस्त से एक दिन में एक करोड़ डोज़ लगाई जा सके.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button