वैष्णो देवी : अब भवन से भैरों घाटी तक का सफर सिर्फ 3 मिनट में होगा तय

इस रोपवे एक एक बार में 45 यात्री भवन से भैरों घाटी और इतने ही यात्री भैरों घाटी से भवन आ सकते हैं.

नए साल से पहले माता वैष्णो देवी स्थापना बोर्ड ने माता के लाखों भक्तो को बड़ा तोहफा दिया है. अब माता वैष्णो देवी के भक्त माता के मंदिर से भैरों घाटी तक का एक घंटे का दुर्गम सफर रोपवे से महज़ 3 मिनट में कर पाएंगे.

इस रोपवे की शुरुआत सोमवार को राज्य के राज्यपाल और बोर्ड के चेयरमैन सत्यपाल मलिक ने की. इस रोपवे के शुरू होने से अब महज़ 100 रुपये देकर आप भवन से भैरों मंदिर का सफर आराम से तय कर सकते हैं.

85 करोड़ रुपये की लागत से बने इस रोपवे को यूरोपियन मापदण्डों के अनुसार बनाया गया है. इस रोपवे एक एक बार में 45 यात्री भवन से भैरों घाटी और इतने ही यात्री भैरों घाटी से भवन आ सकते हैं.

इस यात्रा को करने से पहले आपको भवन में बनाये गए टिकटिंग काउंटर से टिकट लेनी पड़ेगी जिसके बाद आपके टिकट पर एक क्यूआर कोड होगा जिसको दिखने पर रोपवे तक जाने वाले बैरिकेड खुलेंगे.

यह प्रणाली दिल्ली मेट्री स्टेशन की तर्ज़ पर ही काम करेगी. यात्रियों की सुविधा के लिए इस रोपवे में उनके सामान को ले जाने की अनुमति है.

इस रोपवे में सवार हो रहे यात्रियों की सुरक्षा पर भी बोर्ड ने खासा ध्यान दिया है. अगर कभी इस रोपवे को खींचने वाले लिवर में कोई खराबी आ जाती है वो अपने आप ही दूसरे लिवर पर शिफ्ट हो जाएगी.

रोपवे को डीज़ल जेनेरेटर सेट से भी पावर बैकअप दिया गया है. बहुत कम ऐसी संभावना है कि यह रोपवे चलते चलते बंद हो, लेकिन अगर ऐसा होता है तो इसमें यात्रियों के सही सलामत निकालने का भी प्रावधान है.

वहीँ, यात्री भी इस सेवा के शुरू होने से काफी खुश है. यात्रियों का दावा है कि यह सुविधा बुज़ुर्गो और महिलाओ के लिए वरदान है.

लेकिन वहीँ यात्रियों को संशय है कि भीड़ के दिनों में हर एक यात्री शायद ही भैरों घाटी तक आसानी से पहुंच सके.

फिलहाल आप भवन के पास बने टिकट काउंटर से टिकट लेकर यह यात्रा कर सकते हैं और भविष्य में आप इस सुविधा को ऑनलाइन भी ले सकते है.

advt
Back to top button