उद्योग जगत के विभिन्‍न संगठनों ने अर्थव्‍यवस्‍था को प्रोत्‍साहन देने के सरकार के उपायों का स्‍वागत किया

एसोचैम ने कहा कि इन उपायों का उद्देश्‍य महामारी से बुरी तरह से प्रभावित क्षेत्रों को राहत उपलब्‍ध कराना है।

नई दिल्ली: उद्योग जगत के विभिन्‍न संगठनों ने अर्थव्‍यवस्‍था को प्रोत्‍साहन देने और विभिन्‍न क्षेत्रों को राहत उपलब्‍ध कराने के सरकार के उपायों का स्‍वागत किया है। कल वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारामन ने छह लाख 28 हजार करोड़ रुपये से अधिक के राहत पैकेज की घोषणा की थी।

फिक्‍की के वरिष्‍ठ उपाध्‍यक्ष संजीव मेहता ने सरकार की घोषणा का स्‍वागत किया है। उन्‍होंने कहा कि नये उपायों के साथ कुछ मौजूदा राहत उपायों का भी विस्‍तार किया गया है। उन्‍होंने कहा कि कोविड प्रभावित क्षेत्रों पर ध्‍यान देना मौजूदा समय की आवश्‍यकता है। श्री मेहता ने कहा कि इन उपायों से सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्यमों-एमएसएमई सहित अन्‍य क्षेत्रों पर दबाव कम होगा।

भारतीय उद्योग परिसंघ-सीआईआई ने भी अर्थव्‍यवस्‍था को प्रोत्‍साहन देने के लिए सरकार की घोषणा पर प्रसन्‍नता व्‍यक्‍त की है। परिसंघ के अध्‍यक्ष टी.वी.नरेन्‍द्रन ने कहा कि स्‍वास्‍थ्‍य और पर्यटन पर विशेष ध्‍यान देने के साथ सरकार की घोषणा में लक्ष्‍य आधारित हस्‍तक्षेप किये गये हैं। उन्‍होंने कहा कि बाजार में नकदी बढ़ाने के उपायों से उद्यमी कोविड महामारी के असर को कम करने में सफल होंगे। उन्‍होंने स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल, पर्यटन क्षेत्रों और छोटे कारोबारियों के लिए ऋण गारंटी योजना के विस्‍तार का स्‍वागत किया।

एसोचैम ने कहा कि इन उपायों का उद्देश्‍य महामारी से बुरी तरह से प्रभावित क्षेत्रों को राहत उपलब्‍ध कराना है। एसोचैम ने कहा कि सरकार का यह पैकेज अर्थव्‍यवस्‍था में तेजी से सुधार में सक्षम विभिन्‍न क्षेत्रों के लिए जीवन रेखा के रूप में काम करेगा।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button