नन रेप केस बिशप फ्रैंको पर हस्तक्षेप कर सकता है वेटिकन

जीसस संस्था ने बिशप फ्रैंको मुलक्कल का किया बचाव

तिरुवनंतपुरम। केरल नन रेप मामले में आरोपी जालंधर के बिशप फ्रैंको मुलक्कल से जुड़ा मामला आने वाले दिनों में वेटिकन भी हस्तक्षेप कर सकता है।

सूत्रों के मुताबिक आरोपी बिशप का मामला वेटिकन तक जा पहुंचा है।

बिशप फ्रैंको मुलक्कल ने एक पत्र में कहा है, ‘मुझे केरल में जांच अधिकारी द्वारा आगे स्पष्टीकरण के लिए बुलाए जाने की संभावना है।

केरल में जांच अधिकारी आरवी, जोसेफ थेक्कुमकट्टिल और सुबिन थेक्कदेथु मुझे बुला सकते हैं।’

इस बीच मिशनरीज ऑफ जीसस संस्था ने बिशप फ्रैंको मुलक्कल का बचाव किया है।

संस्था द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि हर रेप पीड़िता के लिए दोषी से घटना के बाद मिलना मरने के समान होता है, ऐसे में जिस रेप की बात हो रही है,

उसके बाद भी वह (नन) बिशप के साथ 20 बार यात्रा पर क्यों गईं? बता दें कि जालंधर के बिशप फ्रैंको मुलक्कल पर नन ने रेप का आरोप लगाया है,

जिसके चलते बिशप के खिलाफ कई और नन भी उतर आईं हैं।

Tags
Back to top button