छत्तीसगढ़

एसईसीएल में विविध कार्यक्रमों के साथ सतर्कता जागरूकता सप्ताह सम्पन्न

देश की समृद्धि का मार्ग सतर्क नागरिक ही प्रशस्त कर सकते हैं। अपने सद्विचारों को आचरण में परिणित करना हम सबका नैतिक दायित्व है।–

RAIPUR: उक्त विचार एसईसीएल के अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक श्री ए.पी. पण्डा ने सतर्कता जागरूकता समारोह 2020 के समापन समारोह में व्यक्त किए। यह कार्यक्रम दिनांक 02.11.2020 को एसईसीएल मुख्यालय के सीएमडी सभाकक्ष में आयोजित किया गया था। उन्होंने सतर्कता जागरूकता सप्ताह के सफल आयोजन के लिए शुभकामनाएँ व्यक्त करते हुए कहा कि हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी इस सप्ताह के दौरान विभिन्न प्रतियोगिताएँ, बेबीनार, हितग्राही मिलन आदि आयोजित किए गए।

बेहतर बात यह है कि यह सब सूचना प्रौद्योगिकी के माध्यम से सफलतापूर्वक सम्पादित किए गए। यह बदला हुआ एसईसीएल है जहाँ सूचना प्रौद्योगिकी का व्यापक तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है। इससे न केवल कार्य में तेजी आई है बल्कि पारदर्शिता भी बढ़ी है। सतर्कता केवल एक सप्ताह की बात नहीं बल्कि हमारे जीवन में अंगीकृत किया जाने वाला आदर्श है। अंत में उन्होंने सभी को नियमों का पालन करते हुए निरंतर कार्यरत रहने का आव्हान किया।

जागरूकता सप्ताह 2020 के उपलक्ष्य में प्रकाशित की गयी

इस कार्यक्रम में सतर्कता जागरूकता सप्ताह 2020 के उपलक्ष्य में प्रकाशित की गयी ई-स्मारिका ’स्पंदन’ का आॅनलाईन विमोचन अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक श्री ए.पी. पण्डा द्वारा किया गया। इसके साथ ही सप्ताह के दौरान आयोजित किए गए विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं के सर्टिफिकेट का भी आॅनलाईन वितरण किया गया।

अपने उद्बोधन में मुख्य सतर्कता अधिकारी श्री बी.पी. शर्मा ने कहा कि सच्चाई और अच्छाई की राह भारत की संस्कृति में निहित है। कार्य के दौरान भी हमारा यह मूल स्वभाव परिलक्षित होना आवश्यक है। नियमों के अनुसार कार्य करने से न केवल हम किसी भी प्रकार की गलती से बच सकते हैं बल्कि इससे कार्य में समानता एवं पारदर्शिता भी सुनिश्चित कर सकते हैं।

इस अवसर पर निदेशक तकनीकी (योजना/परियोजना) श्री एम.के. प्रसाद, निदेशक (वित्त) श्री एस.एम. चैधरी, महाप्रबंधक (खनन) श्री एस.के. पाल, महाप्रबंधक (सतर्कता) श्री के.आर. राजीव आदि उपस्थित रहेे। इस कार्यक्रम में मुख्यालय बिलासपुर के सभी विभागों के विभागाध्यक्ष, अधिकारी, कर्मचारी विडियो कान्फ्रेन्सिंग के माध्यम से जुड़े रहे। कार्यक्रम में उद्घोषणा का दायित्व श्री मोहनीश चिंगप्पा प्रबंधक (कार्मिक/सतर्कता) ने निभाया एवं अंत में धन्यवाद ज्ञापन श्री जे.पी. सिंह मुख्य प्रबंधक (सामग्री प्रबंधन/सतर्कता) द्वारा किया गया।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button