मुख्यमंत्री के रूप में चुने विजय रूपाणी ने कहा हमारी सीटें कम हुईं आत्ममंथन करेंगे

भारतीय जनता पार्टी ने गुजरात में किसी तरह के अप्रत्याशित फैसला लेने के बजाए विजय रूपाणी को ही प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाने का फैसला किया


मुख्यमंत्री के रूप में चुने विजय रूपाणी ने कहा हमारी सीटें कम हुईं आत्ममंथन करेंगे

भारतीय जनता पार्टी ने गुजरात में किसी तरह के अप्रत्याशित फैसला लेने के बजाए विजय रूपाणी को ही प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाने का फैसला किया है. वहीं नितिन पटेल को उपमुख्यमंत्री के रूप में बरकरार रखा गया है.

राज्य की राजधानी गांधीनगर में मुख्यमंत्री के रूप में चुने जाने के बाद रूपाणी ने कहा, “लोगों ने 27 साल के लिए हमें जनमत दिया है. यह बड़ी जीत बताती है कि इतने सालों बाद भी जनता का विश्वास हम पर बना हुआ है.”

लगातार दूसरी बार मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने वाले रूपाणी ने कहा, “हमारी सीटें जरूर कम हुई हैं, और हम इस पर मंथन करेंगे. बहुमत के साथ सरकार बनाना एक चुनौती की तरह है. हम फिर से सरकार बना रहे हैं और यह एक कामयाबी जैसी है.”

उन्होंने कहा, “भाजपा की चुनाव में हार नहीं हुई है. कांग्रेस के शीर्ष नेता इस चुनाव में हारे हैं जबकि हमारे बड़े नेता चुनाव जीत गए हैं. दूसरी ओर, मतों का प्रतिशत भी बढ़ा है. गुजरात की जनता के लिए यह एक अच्छा परिणाम है.”

दूसरी ओर, उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा, “मैं गुजरात की जनता को भरोसा दिलाता हूं मैं और विजय भाई अपने पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर पिछली सरकार की तरह आम जनता के लिए कार्य करता रहूंगा.”

इससे पहले तक कयास लगाए जा रहे थे कि भाजपा गुजरात में भी यूपी का फॉर्मूला लागू करने पर विचार कर रही है. दो उपमुख्यमंत्री होने की संभावना जताई जा रही थी. गांधीनगर स्थित पार्टी कार्यालय में हुई बैठक में पर्यवेक्षक अरुण जेटली और सरोज पांडे के साथ विजय रूपाणी भी थे.

advt
Back to top button