CWG चीफ डी मिशन के रूप में विक्रम सिसोदिया ने किया छत्तीसगढ़ को गौरवान्वित: डॉ. रमन सिंह

मुख्यमंत्री ने किया विक्रम सिसोदिया को सम्मानित

रायपुर: मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने शुक्रवार को मंत्रालय महानदी भवन में आयोजित एक सादे समारोह में कामनवेल्थ खेलों में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले चीफ डी मिशन विक्रम सिंह सिसोदिया को शॉल और श्रीफल भेंटकर सम्मानित किया। उल्लेखनीय है कि सिसोदिया मुख्यमंत्री के विशेष कर्त्तव्यस्थ अधिकारी हैं। यह सम्मान समारोह मुख्यमंत्री सचिवालय और खेल विभाग द्वारा आयोजित किया गया।

डॉ. सिंह ने इस अवसर पर कहा कि सिसोदिया को चीफ डी मिशन के रूप में कामनवेल्थ खेलों में देश का प्रतिनिधित्व करने का अवसर मिला, यह छत्तीसगढ़ के लिए और व्यक्तिगत रूप से सिसोदिया के लिए गौरव की बात है। कामनवेल्थ खेलों में भारत के खिलाड़ियों ने अपना शानदार प्रदर्शन करते हुए देश को तीसरा स्थान दिलाया, इस गौरवशाली उपलब्धि में चीफ डी मिशन के रूप में सिसोदिया के कुशल नेतृत्व की भी महत्वपूर्ण भूमिका है। सीएम ने कहा अन्तर्राष्ट्रीय खेलों में सिसोदिया द्वारा अर्जित किए गए बहुमूल्य अनुभव का लाभ छत्तीसगढ़ के खेल जगत को भी मिलेगा।

इस अवसर पर खेल मंत्री भईया लाल राजवाड़े, मुख्य सचिव अजय सिंह, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव अमन कुमार सिंह, मुख्यमंत्री के सचिव सुबोध कुमार सिंह और एमके त्यागी, मुख्यमंत्री के विशेष सचिव मुकेश बंसल, खेल विभाग के सचिव आर. प्रसन्ना और जनसम्पर्क विभाग के विशेष सचिव राजेश सुकुमार टोप्पो सहित खेल विभाग के वरिष्ठ अधिकारी इस अवसर पर उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव अमन कुमार सिंह ने कहा कि विदेश में भारत का प्रतिनिधित्व करना अपेक्षाकृत चुनौतीपूर्ण रहता है। छोटी-छोटी बातों के लिए संघर्ष करना पड़ता है। सिसोदिया ने बड़े ही कुशलतापूर्वक अपने मिशन प्रमुख की जिम्मेदारी का निर्वाह किया, जिसकी वजह से खिलाड़ी निश्चिंत होकर अपने खेल पर ध्यान दे सके। सिसोदिया के नेतृत्व में कामनवेल्थ खेलों में भारत का प्रदर्शन उल्लेखनीय रहा है। यह रायपुर शहर, छत्तीसगढ़ और मुख्यमंत्री सचिवालय के लिए गौरव का विषय है।

खेल सचिव आर. प्रसन्ना ने कहा कि आस्ट्रेलिया के गोल्डकोस्ट में आयोजित कामनवेल्थ खेलों में सिसोदिया के नेतृत्व में आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बाद भारत का तीसरा स्थान रहा। भारत ने कुल 66 पदक जीते। इनमें से 26 स्वर्ण पदक, 20 रजत पदक और 20 कांस्य पदक है। उन्होंने टीम भावना के साथ खिलाड़ियों का बेहतर प्रबंधन के साथ नेतृत्व किया। प्रसन्ना ने कहा कि गोवा के बाद छत्तीसगढ़ में राष्ट्रीय खेलों का आयोजन होने जा रहा है। इस आयोजन में श्री सिसोदिया द्वारा कामनवेल्थ खेलों में अर्जित किए गए अनुभव का लाभ मिलेगा।

इस अवसर पर विक्रम सिंह सिसोदिया ने अपने उद्गार प्रकट करते हुए मुख्यमंत्री के प्रति आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के मार्गदर्शन और प्रोत्साहन से छत्तीसगढ़ में खेलों का अच्छा वातावरण बना है और उन्हें स्वयं भी चीफ डी मिशन के रूप में देश का नेतृत्व करने का अवसर मिला। कामनवेल्थ गेमों में भारत ने तीसरा स्थान प्राप्त कर गौरवशाली उपलब्धि दर्ज की।

सिसोदिया ने कहा कि भारतीय ओलम्पिक संघ के संयुक्त सचिव के रूप में उनका प्रयास सभी खेल फेडरेशनों के मध्य बेहतर समन्वय स्थापित करने की होगी, जिससे खिलाड़ी अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर सकें। उन्होंने कहा कि कामनवेल्थ खेलों के शुभारंभ और स्वागत समारोह में जब भारत का तिरंगा शान से लहराया, तो उनके साथ सभी खिलाड़ी स्वयं को गौरवान्वित महसूस कर रहे थे। जीवन के ये पल उन्हें सदैव याद रहेंगे।

Back to top button