Birthday Special: जब सुपरस्‍टार विनोद खन्ना ने अचानक अपना लिया था सन्‍यास

बॉलीवुड में स्टार होते हैं, सुपरस्टार होते हैं, और सभी का युग भी होता है, लेकिन बात अगर बॉलीवुड के हैंडसम हंक यानी विनोद खन्ना की बात करें तो वह एक ऐसे सितारे थे, जिन्‍हें कभी सुपरस्टार नहीं पुकारा गया, लेकिन उनके फिल्मों में आने के बाद कोई भी सुपरस्टार ऐसा नहीं रहा, जिसकी कामयाबी में विनोद खन्ना का योगदान न रहा हो.

‘मुकद्दर का सिकंदर’ को अमिताभ बच्चन की फिल्म के रूप में सभी याद करते हैं, लेकिन क्या आप ‘वकील साहब’ और उनकी दोस्ती के बिना ‘सिकंदर’ के दर्शकों के मन की गहराइयों में उतर जाने की कल्पना कर सकते हैं.

ऐसा ही अंदाज सुपरहिट फिल्‍म ‘अमर अकबर एंथनी’ के अमर भी थे. आज विनोद खन्ना का जन्‍मदिन है और इसी साल अप्रैल के महीने में बॉलीवुड ने इस दिग्‍गज सितारे को खोया भी है. विनोद खन्‍ना का जन्‍म 6 अक्‍टूबर, 1946 में पाकिस्‍तान के पेशावर में हुआ था.

फिल्‍मों में एक विलेन के रूप में करियर शुरू करने वाले विनोद खन्ना ने अपने करियर में लगभग 150 से ज्‍यादा फिल्‍में की. 1968 में फिल्‍म ‘मन का मीत’ से अपने करियर की शुरुआत करने वाले विनोद खन्ना जब करियर में सुपरहिट हो चुके थे, तभी इस सितारे ने अचानक अध्‍यात्‍म का रुख कर लिया.

1
Back to top button