राष्ट्रीय

भारतीय वायुसेना की 85वीं सालगिरह आज

नई दिल्‍ली: भारतीय वायुसेना रविवार को अपनी 85वीं सालगिरह मनाने जा रही है. इस मौके पर गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस पर वायुसेना के लड़ाकू और ट्रांसपोर्ट विमानों के अलावा हलीकॉप्टर फ्लाई पास्ट करेंगे. इतना ही नहीं, पहली बार 9 हॉक विमानों के साथ सूर्यकिरण के साथ देसी एडवांस लाइट हेलीकॉप्टर की टीम ध्रुव आसमान में अपनी कलाबाजियां दिखाएगी, जिसे देखकर लोग दांतों तले उंगली दबाने के लिए विवश हो जाएंगे. फ्लाई पास्ट की कमान सुखोई-30 MKI के हाथों में होगी. 9 सुखोई, 4 जगुआर, 4 मिग-21 बाइसन, एक देसी तेजस, 4 मिग-29 के अलावा टाइगर मोथ और हावर्ड जैसे पुराने विटेंज एयरकाफ्ट भी उड़ान भरेंगे.

भ्रष्ट्राचार के आरोपों की वजह से ट्रेनर विमान पिलाट्स वायुसेना दिवस पर उड़ान नहीं भरेगा. इसके अलावा विशेष ऑपरेशन में शामिल होने वाले सी-130 जे, दुनिया के बड़े परिवहन विमानों में से एक सी-17 ग्लोब मास्टर के अलावा दुश्मन पर नजर रखने वाले अवाक्स विमान भी फ्लाई पास्ट में हिस्सा लेंगे.

बेशक उम्र बढ़ने के साथ लोग बूढ़े हो जाते हैं लेकिन भारतीय वायुसेना की ताकत लगातार बढ़ रही है. रविवार को सब लोग दुनिया की चौथी बड़ी वायुसेना की ताकत देखेंगे. आपको ये बता दें कि जब जब वायुसेना को मौका मिला है उसने अपनी काबिलियत साबित की है. चाहे बात लड़ाई की हो या फिर किसी भी आपदा में राहत पहुंचाने की, हर जगह वायुसेना आगे रहती है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.