अचानकमार टाइगर रिजर्व के बफर जोन में हो रहा शासन के नियमों का उलंघन

जेसीसीजे कार्यकर्ताओं ने शीघ्र जांच नहीं होने पर दी धरना प्रदर्शन की चेतावनी

लोरमी: अचानकमार टाइगर रिजर्व के बफर जोन में शासन के नियमों का उलंघन हो रहा रहा है. अधिकारी बाजार से अधिक मूल्य में क्रय कर सामग्री का उपयोग व स्टाप डेम, तालाब खुदाई एवं भवन निर्माण कार्य में गुणवत्ताहीन सामग्री का उपयोग धड़ल्ले से कर रहे हैं.

जिसकी शिकायत करते हुए जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे के कार्यकर्ताओं ने भ्रष्टाचार करने का आरोप प्रबंधन पर लगाया है. वहीं 7 दिनों के भीतर अचानकमार टाइगर रिजर्व के एसडीओ मानस राय को हटाते हुए जांच नहीं की गई. तो एसडीओ और डीएफओ कार्यालय का घेराव एवं धरना प्रदर्शन करने की चेतवनी कर्यकर्ताओं ने दी है.

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे के कार्यकर्ताओं ने एटीआर के डीएफओ विजया कुर्रे को जांच करने की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा है. इस दौरान जैसे ही जेसीसीजे कार्यकर्ता डीएफओ विजया कुर्रे के दफ्तर में पहुँचे तो उन्होंने ज्ञापन तो लिया लेकिन कार्यकर्ताओं के ऊपर आरोप लगाते हुए शराब के नशे में दोबारा दफ्तर नहीं पहुँचने की बात कही. जिससे नाराज जेसीसीजे के कार्यकर्ताओं ने जमकर एटीआर प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी की.

वहीं कार्यकर्ताओं ने एसडीओ मानस राय पर मनमानी करते हुए बाहरी ठेकेदारों को निजी लाभ पहुंचाने जो सामाग्री कम मूल्य में मिलेंगी उसको अपने रायपुर के करीबी ठेकेदारों से खरीदकर शासन के पैसों का बंदरबाट करने का आरोप भी लगाया है.

जेसीसीजे कार्यकर्ताओं राकेश छाबड़ा ने कहा कि एटीआर प्रबंधन के अधिकारी वन्य पशुओं के शिकार और लकड़ी कटाई में भी रोक लगाने में नाकाम है. वहीं 7 दिनों के भीतर अचानकमार टाइगर रिजर्व के एसडीओ मानस राय को हटाते हुए जांच नहीं की गई. तो हम एसडीओ और डीएफओ कार्यालय का घेराव एवं धरना प्रदर्शन करेंगे. वहीं इस पूरे मामले में सीसीएफ ने जल्द ही जांच के बाद उचित कार्यवाही करने की बात कही है.

Tags
Back to top button