सलवा जुडूम के दौरान हुई हिंसा की होनी चाहिए जांच : मंत्री कवासी लखमा

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश में आबकारी और उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने कहा सलवा जुडुम के दौरान हुई हिंसा की जाँच कराए जाने की बात कही है।

विदित हो कि सलवा जूडूम के दौरान कवासी लखमा ने हिंसा की घटनाओं को तब उठाया था, और इसका खुला विरोध किया था। तब भी कवासी लखमा कोंटा से विधायक थे।

कुटरु से शुरु हुआ आंदोलन भैरमगढ पहुँचने तक ग्रामीणों द्वारा स्व स्फुर्त संचालित था, और माओवादी ग्रामीणों के इस तेवर से बैकफ़ुट पर आ गए थे। लेकिन उसके बाद इस आंदोलन ने राजनैतिक रंग लिया।

सलवा जूडूम के दौरान हिंसा की कई घटनाएं घटीं, आरोप लगते रहे कि, मुख्य मार्ग से किनारे भीतर बसे गाँव के गाँव जलाए गए और बड़े पैमाने पर हत्याएँ हुई। सामाजिक संगठन इस मसले को सुप्रीम कोर्ट को तक लेकर गए और तत्कालीन भाजपा सरकार को इस सलवा जूडूम को कॉल ऑफ़ कराना पड़ा।

Tags
Back to top button