तृणमूल सरकार से पीछे हुआ वाम शासन की हिंसक विरासत : शाह

नई दिल्लीः भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने अपनी पार्टी के एक कार्यकर्ता की संदिग्ध हत्या को लेकर पश्चिम बंगाल की तृणमूल कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए आज आरोप लगाया कि उसने कम्युनिस्ट शासन की हिंसक विरासत को पीछे छोड़ दिया है।

शाह ने ट्वीट कर कहा कि भाजपा के युवा कार्यकर्ता त्रिलोचन महतो की जिंदगी राज्य के संरक्षण में छीन ली गई क्योंकि उनकी विचारधारा राज्य प्रायोजित गुंडों Þ से भिन्न थी। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, पश्चिम बंगाल के बलरामपुर में हमारे युवा कार्यकर्ता , त्रिलोचन महतो की निर्मम हत्या से गहरा दुख हुआ। संभावनाओं से भरा एक युवा जीवन राज्य के संरक्षण में बर्बरता से छीन लिया गया। उन्हें पेड़ से लटका दिया गया क्योंकि उनकी विचारधारा राज्य प्रायोजित गुंडों से अलग थी।

शाह ने कहा, पश्चिम बंगाल की तृणमूल सरकार ने कम्युनिस्ट शासन की हिंसक विरासत को भी पीछे छोड़ दिया है। पूरी भाजपा इस दुखद घटना पर शोकाकुल है और दु:ख की इस घड़ी में त्रिलोचन महतो के परिवार के साथ ढृढ़ता से खड़ी है। संगठन और विचारधारा के लिए उनका बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा।

भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने दावा किया कि राज्य में पार्टी के 18 कार्यकर्ता मारे जा चुके हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि यह सरकार के इशारे पर हुआ। उन्होंने कहा कि पीड़ित की पीठ पर लिखा था कि ‘‘ भाजपा के लिए काम करने वालों की यही नियति होगी।

new jindal advt tree advt
Back to top button