खेल

टेस्ट क्रिकेट में देश के सबसे कामयाब कप्तान बने विराट कोहली

सबसे अधिक टेस्ट मैच जीतने के मामले में धोनी को छोड़ा पीछे

नई दिल्ली: भारत ने वेस्टइंडीज के खिलाफ लगातार आठवीं टेस्ट सीरीज अपने नाम कर ली. दूसरे टेस्ट मैच में जीत से भारत को आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में 60 अंक मिले. उसने अब टेस्ट चैंपियनशिप में 120 अंकों के साथ पहले स्थान पर कब्जा कर लिया है.

वहीं इस सीरीज की जीत का श्रेय भारत के कप्तान विराट कोहली को जाता है, जिन्होने सबसे अधिक टेस्ट मैच जीतने के मामले में अपने पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को पीछे छोड़ दिया है. भारत ने उनकी कप्तानी में 28 टेस्ट मैच जीते हैं.

बहरहाल, अब बात विराट कोहली की ऐतिहासिक उपलब्धि की. भारतीय क्रिकेट में एक बड़ा वर्ग है, जो विराट कोहली की कप्तानी की आलोचना करता रहा है. विराट ने इनका समय-समय पर जवाब भी दिया है. वेस्टइंडीज पर जीत ने तो उन्हें आंकड़ों में भारत का सबसे कामयाब कप्तान बना दिया है.

कप्तान गांगुली ने 21 टेस्ट जिताए

विराट कोहली की कप्तानी में भारत ने अब तक 48 टेस्ट मैच खेले हैं. भारत ने इनमें से 28 टेस्ट मैच जीते हैं. कोई भी और भारतीय टीम को इतने अधिक टेस्ट मैचों में नहीं जिता सका है. विराट कोहली से पहले एमएस धोनी देश के सबसे सफल टेस्ट कप्तान थे. उन्होंने भारत को 27 टेस्ट मैचों में जीत दिलाई है. सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) 21 जीत के साथ तीसरे नंबर पर हैं.

धोनी ने की सबसे अधिक टेस्ट में कप्तानी

विराट कोहली भारत की ओर से सबसे अधिक टेस्ट मैचों में कप्तानी करने के मामले में तीसरे नंबर पर हैं. उन्होंने 48 टेस्ट मैच में कप्तानी की है. एमएस धोनी इस मामले में पहले नंबर पर हैं. उन्होंने 60 और सौरव गांगुली ने 49 टेस्ट मैचों में कप्तानी की है. मोहम्मद अजहरुद्दीन और सुनील गावस्कर भी 47-47 टेस्ट मैचों में कप्तानी कर संयुक्त रूप से चौथे नंबर पर हैं.

विराट की कप्तानी में 58% मैच जीता भारत

भारत ने विराट कोहली की कप्तानी में 58.33% मैच जीते हैं. वे कम से कम पांच टेस्ट मैचों में कप्तानी कर चुके कप्तानों में यहां भी सबसे सफल हैं. इस मामले में एमएस धोनी (45%) दूसरे और सौरव गांगुली (42.85%) तीसरे नंबर पर हैं.

Tags
Back to top button