छत्तीसगढ़

कटघोरा में विराट शोभायात्रा कल से, मृत्युंजय धाम में होगा अनुष्ठान

नवीन गोयल:

कटघोरा: कटघोरा की पावन धरा में सनातन धर्म की रक्षा हेतु एवं विश्व कल्याणार्थ श्री दैवीय सम्पद मंडल का दिव्य सनातन संस्कार आध्यात्मिक आयोजन शतमुख कोटि हरिहरात्मक महायज्ञ एवं विराट संत सम्मेलन व श्रीमद भागवत कथा ज्ञान यज्ञ की शुरुआत श्री श्री 1008 श्री शारदानंद सरस्वती जी महाराज जी के सानिध्य में 16 नवंबर से 25 नवंबर को संपादित होने जा रही है, जहां भारत वर्ष के लगभग सभी राज्यो से भक्तगण पहुंचेंगे साथ ही विदेशो से भी महराज जी के अनुयायी भी पहुंच रहे है।

मृत्युंजय धाम

शोभायात्रा की जबरदस्त तैयारियां

पूरी कटघोरा नगरी इस महाअनुष्ठान की गवाह बनेंगे, साथ ही पूरी नगरी पवित्र होने जा रही है, जहां एक ओर तैयारी को लेकर हजारों की संख्या में कार्यकर्ता व भक्तगणों के द्वारा दिन रात मेहनत कर जोर शोर से कार्य को अंतिम रूप दिया जा रहा है, वही पर कल प्रारंभ होने वाले शोभायात्रा की भी जबरदस्त तैयारियां चल रही है।

कटघोरा में विराट शोभायात्रा

विभिन्न देवी देवताओं की जीवंत झाँकियाँ इस शोभा यात्रा की शोभा बढ़ाएगी। वही इनके अलावा ऊंट, घोड़ा पालकी, राउत नाचा पार्टी, शबरी झांकी, भारत माता झांकी, जटायु झांकी, प्रजापिता ब्रम्हा कुमारी झांकी, रामदरबार झांकी, कर्मा पार्टी के अलावा, रुद्र गर्जना नागपुर की पार्टी, तांत्रिक झाँकियाँ भी शामिल होंगे।

साउंड सिस्टम

कटघोरा का वातावरण शुद्ध होने के साथ ही पूरा भक्तिमय भी होगा, कटघोरा नगर भक्ति के रंग में रंगने जा रहा है जहां केवल और केवल भक्ति की गंगा ही बहेगी, पूरे नगर में बेहतरीन साउंड सिस्टम के तहत उच्च क्वालिटी का साउंड बॉक्स लगाया गया है जो भक्त प्रत्यक्ष रूप से शामिल न हो पाए वो साउंड सिस्टम के माध्यम से घर मे एवं दुकानों में वैठकर साथ ही आम राहगीर भी इसका आनंद प्राप्त कर सकते है।

भव्य यज्ञशाला का निर्माण किया गया है जिसमे 108 हवन कुण्ड होंगे जहां हवन आदि प्रक्रिया संपादित होंगे व पूजन कक्ष , वृहत भागवत पंडाल का भी निर्माण किया गया है जहां पे विभिन्न स्थानो से संत महात्मा का भी आगमन होगा एवं यज्ञ समिति ने सभी भक्तगणों से अपील करती है उक्त सभी आयोजनों में सम्मिलित होकर पूरे कार्यक्रमों की शोभा बढ़ावे।

Tags
Back to top button