भारतीय साइकलिंग टीम के लिए वीजा बना रूकावट

नई दिल्ली : यूसीआई जूनियर ट्रैक वर्ल्ड चैंपियनशिप में भागीदारी से पहले ही भारतीय साइकल ऐथलीटों के लिए वीजा की रुकावटों ने मुश्किल खड़ी कर दी है। इस टूर्नमेंट का आयोजन स्विट्जरलैंड में होना है और स्विस दूतावास ने भारतीय टीम को वीजा देने से साफ इनकार कर दिया है। भारतीय साइकलिंग महासंघ (सीएफआई) के महासचिव ओंकार सिंह ने सोमवार को इसकी पुष्टि की। बता दें कि अगले महीने 15 से 19 अगस्त तक स्विट्जरलैंड के एग्ले में इस टूर्नमेंट का आयोजन होगा।

सिंह ने बताया कि सीएफआई ने आवेदन के साथ टूर्नमेंट की आयोजन समिति से निमंत्रण पत्र भेजा था। इसके बावजूद स्विस दूतावास ने वीजा देने से इनकार करने के पीछे का कारण रहने के लिए स्थिति और उद्देश्य को स्पष्ट न करना बताया। इस टूर्नमेंट के लिए ऑनलाइन पंजीकरण सोमवार से शुरू हो गए हैं, लेकिन सिंह का कहना है कि इसका वीजा प्रक्रिया से कोई लेना देना नहीं है। महासंघ ने विश्व चैंपियनशिप की आयोजन समिति से इस मामले में हस्तक्षेप के लिए पत्र लिखा है।

सीएफआई ने दूतावास को भी पत्र लिखकर भारतीय ऐथलीटों को वीजा देने का आग्रह किया है, ताकि भारतीय टीम के छह सदस्य- अमर सिंह (कोच), बिलाल अहमद दार, गुरप्रीत सिंह, मनोज साहू, नमन कपिल और वेंकप्पा शिवप्पा इस टूर्नमेंट में हिस्सा ले सकें। सिंह ने बताया, हमने सभी वैध दस्तावेजों के साथ सामान्य वीजा के लिए आवेदन दिया है, लेकिन दुर्भाग्य से हमें रहने के लिए स्थिति और उद्देश्य को स्पष्ट न करने के कारण से नजरअंदाज कर दिया गया।’ इस संबंध में सीएफआई द्वारा खेल मंत्रालय से संपर्क के मामले में सिंह ने कहा, ‘वर्तमान में हम आयोजन समिति से प्रतिक्रिया का इंतजार कर रहे हैं और इसके बाद हम अन्य विकल्पों के बारे में विचार करेंगे।’

Back to top button