आरोप-प्रत्यारोपों के बीच आधी रात तक चली वोटिग,बूथों पर किया रोजा इफ्तार

मुजफ्फरनगर दंगों के बाद जाट और मुसलमानों के बीच गहरी हुई खाई भी पटती दिखी

लखनऊ. कैराना लोकसभा सीट पर ईवीएम में गड़बड़ी के आरोप-प्रत्यारोपों के बीच सोमवार रात 12 बजे तक मतदान होता रहा. कई पर मुस्लिम मतदाताओं ने रोजा इफ्तार भी किया. मुजफ्फरनगर दंगों के बाद जाट और मुसलमानों के बीच गहरी हुई खाई भी पटती दिखी.कैराना लोकसभा के उपचुनाव में 54 फीसदी मतदान हुआ. हालांकि वोटिंग शुरू होते ही कई पोलिंग बूथों पर ईवीएम में गड़बड़ी के मामले सामने आए. इसे लेकर राजनीति गर्म हो गई.

आरएलडी प्रत्याशी तबस्सुम हसन से लेकर सपा प्रमुख अखिलेश यादव और आरएलडी के अध्यक्ष चौधरी अजित सिंह ने चुनाव आयोग से इस संबंध में शिकायत की. इसके बाद राज्य चुनाव आयोग ने आधी रात तक वोटिंग कराने की बात कही थी.

ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायतों के मद्देनजर 73 पोलिंग बूथों पर बुधवार को दोबारा मतदान भी कराया जाएगा. नकुड़ और गंगोह क्षेत्र में सबसे ज्यादा ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायतें की गई थीं. यही वजह रही कि इन इलाकों के कई पोलिंग बूथों पर आधी रात तक वोटिंग हुई. नकुड़ क्षेत्र के खजुरहेड़ी, दौलतहैड़ी, मुबारकपुर ऐसे बूथ थे, जहां देर रात तक वोटिंग हुई. प्रशासन ने लाइट और सुरक्षा के खास इंतजाम भी किए थे, ताकि अंधेरा न रहे और न ही किसी तरह की कोई अनहोनी न हो सके.

advt
Back to top button