छत्तीसगढ़

आंदोलन कर्ताओं द्वारा आज भूख हड़ताल और संघर्ष जारी रखने की चेतावनी

भरत मंगवानी:

बिलासपुर: संविधान निर्माता बाबा साहब अम्बेडकर के नाम वार्ड रखे जाने और वार्ड क्रमांक 13 को तीन भागों में बाटे जाने के विरोध में दूसरे दिन भी अम्बेडकर प्रतिमा के सामने धरना जारी रहा।

आंदोलनकर्ताओं ने कहा कि जब तक बाबा साहब अम्बेडकर के नाम पर वार्ड पहले जो नाम था नही रखा जाएगा तब तक विरोध जारी रहेगा। 2 सितंबर को भूख हड़ताल और संघर्ष जारी रखने की चेतावनी आंदोलन कर्ताओ ने दी है।

परिसीमन का बिलासपुर में लगभग सभी संगठन नेताओं का विरोध दावा आपत्ति जारी है। बिलासपुर में परिसीमन अब कांग्रेस के गले की फांस बनते जा रहा है। परिसीमन की वजह से वार्ड क्र 13 अम्बेडकर नगर तीन भागो में विभाजित हो गया, जबकि जो नए 70 वार्ड बने है उसमें किसी का नाम अम्बेडकर के नाम से नही है।

इसी का पुरजोर विरोध किया जा रहा है, हालांकि मुंगेली में एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि दावा आपत्ति में अम्बेडकर वार्ड को रखा जाए। इधर बाबा साहब का नाम गायब होने से डॉ आंबेडकर युवा मंच, भारतीय बौद्ध महासभा के द्वारा लगातार प्रतिमा के सामने संघर्ष धरना जारी है, अब देखते है कि शासन इस पर क्या कदम उठाती है।

Tags
Back to top button