खेती के लिए बांधों से छोड़ा जाए पानी, सिंचाई मंत्री बृजमोहन ने दिए निर्देश

रायपुर।

प्रदेश के सिंचाई एवं कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने खरीफ फसल की सिंचाई के लिए महानदी परियोजना समूह के जलाशयों से जल छोड़े जाने के निर्देश आज दिए हैं। अपने निर्देश में उन्होंने कहा कि पेयजल,निस्तारी एवं अन्य आवश्यक उपयोग की मात्रा को सुरक्षित रख कर किसानों को सिंचाई हेतु शीघ्र पानी प्रदान किया जाए ताकि वे खरीफ की फसल अच्छे से ले सके।

महानदी परियोजना समूह के जलाशयों में क्रमश: रविशंकर जलाशय(गंगरेल डैम) में 90 प्रतिशत, दुधावा जलाशय में 64 प्रतिशत, मुरुमसिल्ली जलाशय में 46 प्रतिशत एवं सोंढूर जलाशय में 92 प्रतिशत जल भराव उपलब्ध है। महानदी जलाशय के कुछ सिंचित क्षेत्र बलौदा बाजार, भाटापारा एवं आरंग में खंड वर्षा के कारण किसानों द्वारा पानी की मांग किसानों ने श्री अग्रवाल के समक्ष रखी थी।

किसानों की मांगों को गंभीरता से लेते हुए मंत्री अग्रवाल ने विभागीय अधिकारियों से जलभराव की स्थिति की जानकारी ली उसके पश्चात उन्होंने या किसान हित का यह निर्णय लिया।

इस संबंध में मुख्य जल संसाधन विभाग के मुख्य अभियंता एसवी भागवत ने बताया कि जल संसाधन मंत्री बृजमोहन अग्रवाल के निर्देश पर खरीफ सिंचाई 2018 हेतु उपरोक्त जलाशयों की नहर प्रणाली से पानी छोड़ा जाएगा। कल 20 अगस्त प्रात: 8 बजे से महानदी मुख्य नहर में जल प्रदान किया जाना प्रारंभ होगा।

Tags
Back to top button