राष्ट्रीय

हम यहां से तब तक नहीं उठेंगे, जब तक कानून वापसी नहीं हो जाती: राकेश टिकैत

गाजीपुर बॉर्डर पर राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने किसानों को संबोधित किया

नई दिल्ली:गाजीपुर बॉर्डर पर भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने किसानों को संबोधित किया, इस दौरान उन्होंने कुछ महत्वपूर्ण बातें कहीं, जिसमें पहला की जब तक कानून वापसी नहीं, घर वापसी नहीं, दूसरा ये कि हम 2 अक्टूबर तक ऐसे ही विरोध प्रदर्शन करेंगे.

टिकैत का सरकार को नया अल्टीमेटम

राकेश टिकैत ने कहा कि दो अक्टूबर के बाद आगे का प्रोग्राम बनाएंगे. कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन जारी है. किसानों का प्रदर्शन लंबा खिंच रहा है. ऐसे में टिकैत के बयान के अब कई मायने निकल रहे हैं. उन्होंने मंच से अन्य किसानों को साफ शब्दों में संदेश दिया है, ‘हम यहां से तब तक नहीं उठेंगे, जब तक कानून वापसी नहीं हो जाती है.

मंच भी वही है और पंच भी वही: टिकैत

हालांकि राकेश टिकैत इस बार वही कहते नजर आए है कि वो सरकार के साथ बातचीत करने को तैयार हैं. उन्होंने ये भी कहा, ‘ सरकार को जब ठीक लगे बात करले, हमारा मंच भी वही है और पंच भी वही है.’ राकेश टिकैत ने आगे एनजीटी पर निशाना साधते हुए कहा कि दिल्ली की सड़कों पर जिस दिन 4 लाख ट्रैक्टर चले, उस दौरान एनजीटी का ऑफिस नहीं दिखाई दिया.’

किसानों के मंच से NGT को चेतावनी राकेश टिकैत ने कहा, ‘हम दिखाना चाहते हैं कि जो ट्रैक्टर हमारे खेत में चलता है वह दिल्ली के एनजीटी के ऑफिस पर भी चलेगा. अब एनजीटी ने नहीं पूछा 10 साल पहले के ट्रैक्टर कौन से चल रहे थे. आखिर इनका प्लान क्या है ? 10 साल पुराने ट्रैक्टर को बंद करो उद्योगपतियों को फाएदा दो.’

‘राकेश टिकैत की नई धमकी’

किसानों के मंच से राकेश टिकैत ने शनिवार को चक्का जाम खत्म होते ही सरकार के खिलाफ एक बार फिर आग उगली. उन्होंने कहा, 10 साल पुराना ट्रैक्टर भी चलेगा, दिल्ली की सड़कों पर 20 लाख आदमी थे, अगला टारगेट हमारा 40 लाख ट्रैक्टरों का है.’ गणतंत्र दिवस के दिन हुई हिंसा के बाद से दिल्ली की सीमाओं पर पुलिस ने भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर रखा है. हालांकि टिकैत ने इस बात का भी जिक्र किया कि बॉर्डर पर पुलिस और जवानों का परिवार अपने बेटे की तस्वीर लेकर आंदोलन में बैठेगा.

यूपी और उत्तराखंड में फ्लॉप शो!

दरअसल संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर देशभर में शनिवार को जिस चक्का जाम का ऐलान किया गया था उसका कहीं कोई खास असर नहीं देखने को मिला. वहीं राजधानी दिल्ली की सीमा के अंदर चक्का जाम नहीं हुआ. गौरतलब है कि उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड के अंदर भी चक्का जाम नहीं दिखा.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button