छत्तीसगढ़

नक्सल ऑपरेशन में मिली हथियार बनाने का औजार

राजनांदगांव । जिले में नक्सलियों के खिलाफ चलाए जा रहे एंटी नक्सली ऑपरेशन में पुलिस को एक बड़ी सफलता मिली है। इस दौरान पुलिस को हथियार बनाने का सामान बरामद हुआ है। ये सामान घोड़ाघाट जंगल में नक्सलियों ने छिपाकर रखे थे।
नक्सल ऑपरेशन के निरीक्षक नीलेश पांडे ने कहा कि राजनांदगांव और बालाघाट के सीमावर्ती क्षेत्रों में नक्सली मूवमेंट की सूचनाएं आ रही थी तथा पुलिस लगातार नक्सली ऑपरेशन में लगे थे। इस दौरान बालाघाट बॉर्डर से लगे भावे के घोड़ापाठ जंगल से नक्सल ऑपरेशन टीम को भारी मात्रा में नक्सलियों का हथियार बनाने का सामान और औजार मिले हैं। इसमें लेथ वाइस-बैच वाइस मशीन, लोहार धोकनी हेंड मशीन सहित एलएसआर बट, चार्जर, आरी, गिरमीट, बर्नीयर, कैलीपर्स, चिमटा, बसूला, फवड़ा एसएलआर ट्रेगर गार्ड, तीन नग तिरपाल जैसे सामान शामिल हैं। नक्सली मुठभेड़ के लिए इन्हीं हथियारों का इस्तेमाल कर बंदूक, टिफिन बन, कुकर बम आदि विस्फोटक सामान तैयार करते हैं। जिन्हें घनघोर जंगल में चट्टानों के बीच छिपाकर रखे थे।
इस नक्सल अभियान में निकले उपनिरीक्षिक आनंद शुक्ला, उपनिरीक्षक अश्वनी सिंह, अजीत सिंह राजपूत, एपीसी विनोदरात और रमेश कुमार के अलावा पुलिस बल, एसटीएफ और ई-30 व आईटीबीपी के जवानों का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *