राष्ट्रीय

पश्चिम बंगाल के बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष के काफिले पर हमला

घोष की गाड़ी के पीछे वाली कार के शीशे टूट गए

कोलकाता: अलिपुरद्वार के दौरे पर गए पश्चिम बंगाल के बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष के काफिले पर अचानक 15-20 लोग पहुंचे और उनके पत्थर बरसाने शुरू कर दिए. हालांकि हालात बिगड़ता देख बीजेपी कार्यकर्ताओं ने दिलीप घोष को वहां से निकाला.

घोष की गाड़ी के पीछे वाली कार के शीशे टूट गए. हमलावरों की फिलहाल पहचान नहीं हो पाई है. हालांकि दिलीप घोष को किसी तरह की कोई चोट नहीं आई है. हमले के बाद बीजेपी कार्यकर्ता घोष को घटनास्थल से बचाकर ले गए.

हमले पर दिलीप घोष ने बताया कि सुबह 11 बजे घोटन बॉर्डर पर उनकी एक सभा थी. उनका काफिला वहीं जा रहा था. उन्होंने बताया कि हमारे काफिले पर पथराव हुआ. जगह-जगह खड़े लोगों ने काले झंडे दिखाए. साथ ही नारेबाज़ी भी हो रही थी और हमारी गाड़ी पर पथराव किया गया. उन्होंने बताया कि पत्थर के साथ साथ डंडे से भी हमला हुआ.

दिलीप घोष ने कहा कि इस हमले में कई गाड़ियों को नुकसान हुआ है. हालांकि किसी को कोई चोट नहीं आई है. दिलीप घोष ने पुलिस पर हमलावरों के साथ होने का आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस उन लोगों के साथ खड़ी थी. ये पहली बार नहीं है. मेरे ऊपर 6-7 बार हमला हुआ है, गाड़ी तोड़ी गई है.

दिलीप घोष ने टीएमसी पर लगाया आरोप दिलीप घोष ने हमले के बाद टीएमसी पर आरोप लगाया. उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि एक दो महीने के बाद टीएमसी और उनके गुंडों की हिम्मत नहीं होगी कि वो बीजेपी पर हमला करें.

बिहार तक हम जीत गए हैं, इसलिए उनको लगता है कि अब तो बीजेपी पास आ गई है. उससे घबरा कर और ज्यादा कर रहे हैं. गुर्गा पूजा के वक्त भी 5-7 बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या हुई है. लॉकडाउन में भी हमला हुआ.”

दिलीप घोष ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने भी बंगाल का ज़िक्र किया और कहा कि उन्हें भी चिंता है, जो बंगाल में घटना हो रही है. उन्होंने कहा कि ये सरकार जब तक रहेगी, ये हिंसा नहीं खत्म होगी. सरकार के साथ साथ इसकी विदाई होगी.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button