क्रिकेटखेल

वेस्टइंडीज ने शतकीय साझेदारी से संभाली स्थिति, बनाए 7/295 रन

इससे पहले कैरिबियाई टीम ने शुक्रवार को पहले बैटिंग का फैसला लिया

हैदराबाद:

जिस प्रकार भारतीय टीम ने मैदान मे शुरुआती कदम रखा उस हिसाब से लग रहा था की टीम इंडिया वेस्ट इंडीज की टीम कोस्टंप से पहले ही पविलियन लौटा देगा लेकिन मेहमान वेस्ट इंडीज टीम ने 7 विकेट के नुकसान पर 295 रन बनाकर भारत के खिलाफ हैदराबाद में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट में अपनी स्थिति काफी हद तक संभाल ली है।

अच्छी शुरुआत के बाद यूं गिरे विकेट

इससे पहले कैरिबियाई टीम ने शुक्रवार को टॉस जीतकर पहले बैटिंग का फैसला किया, लेकिन उनकी शुरुआत कुछ खास नहीं रही और 113 रन तक आते-आते वेस्ट इंडीज की आधी टीम पविलियन में थी। मेहमान टीम ने 11 ओवर में बिना किसी नुकसान के 32 रन जोड़े। 12 वें ओवर की पहली ही गेंद पर अश्विन ने कायरन पावेल (22) को जडेजा के हाथों कैच कराकर भारत को पहली सफलता दिलाई।

इसके बाद पारी के 23वें ओवर में कुलदीप यादव ने दूसरे ओपनर क्रेग ब्रैथवेट (14) को LBW आउट कर पविलियन भेजा। यहां ब्रैथवेट ने अंपायर के निर्णय पर रिव्यू मांगा, लेकिन टीवी कैमरे पर भी अंपायर का निर्णय सही पाया गया और वेस्ट इंडीज टीम का इस तरह पहला रिव्यू खराब हो गया। लंच से कुछ क्षण पहले तेज गेंदबाज उमेश यादव ने शाइ होप को भी पगबाधा आउट कर पविलियन की राह दिखा दी।

दूसरे सत्र में गिरे 3 विकेट

लंच के बाद भी वेस्ट इंडीज की टीम कुछ खास नहीं कर पाई और सिवाए रोस्टन चेज की फिफ्टी के उसके पक्ष में कुछ नहीं दिखा। इस सत्र में भी उसने 3 विकेट गंवाए। दूसरे सत्र के पहले 2 विकेट कुलदीप ने झटककर अपने खाते में कुल 3 विकेट किए।

इसके बाद क्रीज पर नजरें जमा चुके विकेटकीपर बल्लेबाज शेन डोवरिच (30) LBW आउट कर दिया। हालांकि अंपायर ने उन्हें आउट नहीं दिया था, लेकिन उमेश पूरी तरह विश्वस्त थे कि उन्हें यह विकेट मिल गया है। उन्होंने कप्तान कोहली को रिव्यू के लिए मनाया और टीवी कैमरा पर उमेश की उम्मीद कामयाबी में बदल गई।

चेज और कप्तान होल्डर ने जोड़े 104 रन

इस बीच रोस्टन चेज ने फिफ्टी पूरी कर ली। यह इस सीरीज में उनकी लगातार दूसरी फिफ्टी है। ये दोनों विकेट कुलदीप यादव ने अपने खाते में डाले। कुलदीप ने शिमरोन हेटमेयर (12) को पगबाधा आउट पविलियन की राह दिखाई, तो कुछ देर बाद सुनील एम्ब्रिस (18) भी कुलदीप की ही गेंद पर रविंद्र जडेजा को आसान सा कैच थमाकर चले गए।

इसके बाद चेज को कप्तान जेसन होल्डर का साथ मिला। दोनों ने 7वें विकेट के लिए शानदार 104 रन जोड़ते हुए काफी हद तक पारी को संभाल लिया। पारी के 87वें ओवर के बाद भारतीय टीम ने गेंद बदली और दिन का खेल खत्म होने से ठीक पहले उमेश यादव ने कप्तान होल्डर (52) को ऋषभ पंत के हाथों कैच कराते हुए 7वां झटका दे दिया। इस विंडीज की पारी के सबसे बड़ी साझेदारी का अंत हो गया।

शार्दुल चोटिल

मैच की शुरुआत में भारत की ओर से एक छोर से उमेश यादव और दूसरे छोर से अपना टेस्ट डेब्यू कर रहे शार्दुल ठाकुर ने गेंदबाजी का मोर्चा संभाला, लेकिन अपने तीसरे ही ओवर में शार्दुल ठाकुर की मांसपेशियों में खिंचाव आ गया और उन्हें मैदान छोड़ना पड़ा। शार्दुल के स्थान पर रविचंद्रन अश्विन ने बोलिंग की कमान संभाली।

विंडीज टीम में दो बदलाव

वेस्ट इंडीज की टीम इस मैच में 2 बदलाव के साथ उतरी। पहले टेस्ट में चोटिल होने के कारण बाहर रहे कप्तान जेसन होल्डर की वापसी हुई। इसके अलावा जोमेल वेरीकन को भी वेस्ट इंडीज प्लेइंग XI में शामिल किया। टीम इंडिया ने अनुभवी फास्ट बोलर मोहम्मद शमी को आराम दिया है और उनकी जगह शार्दुल को मौका मिला।

Summary
Review Date
Reviewed Item
वेस्टइंडीज ने शतकीय साझेदारी से संभाली स्थिति, बनाए 7/295 रन
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags