अफगानिस्तान को लेकर क्या बोल गए पाक मंत्री- 17 दिनों में नहीं बन सकता ‘स्कैंडिनेवियाई देश’

अफगानिस्तान को लेकर पाकिस्तान की ओर से बयानबाजी का सिलसिला जारी है. इस क्रम में पाक मंत्री शेख राशिद ने अफगान को लेकर बड़ा बयान दिया है. पाक मंत्री ने कहा कि अभी अंतरिम सरकार के गठन को 17 दिन ही हुए हैं इतने कम समय में अफगानिस्तान का ‘स्कैंडिनेवियाई देश’ ( Scandinavian country ) बन जाना संभव नहीं है. पाक मंत्री ने आगे कहा कि काबुल अपनी सामन्य रफ्तार से आगे बढ़ रहा है, इसलिए उससे ज्यादा उम्मीदें न पाली जाएं. दरअसल, पाक मंत्री द एक्सप्रेस ट्रिब्यून अखबार से बात कर रहे थे. उन्होंने पाकिस्तान अपने पड़ोसी मुल्क में शांति चाहता है, जहां अब तालिबान का शासन है.

सरकार के गठन को केवल 17 दिन ही हुए

पाक मंत्री ने यह भी कहा कि अफगानिस्तान में अभी तालिबान की अंतरिम सरकार के गठन को केवल 17 दिन ही हुए हैं. ऐसे में यह मुमकिन नहीं कि अफगानिस्तान स्कैंडिनेवियाई देश बन जाए. हां अगर किसी को उम्मीद है कि 17 दिनों के भीतर अफगानिस्तान एक स्कैंडिनेवियाई देश बन जाए तो यह उसको दोष है. क्योंकि विकास की अपनी एक गति होती है काबुल अपनी गति से आगे बढ़ रहा है. आपको बता दें कि नॉर्वे, स्वीडन डेनमार्क तीन देशों को स्कैंडिनेवियाई देश में गिना जाता है. दरअसल, ये स्कैंडिनेवियाई देश अपनी हाई क्वालिटी लेवल, लॉ एम्पलॉयमेंट एडवांस सोशल सर्विस सिस्टम के लिए जाने जाते हैं.

स्कैंडिनेवियाई देशों को लेकर बयान दिया

पाक मंत्री शेख राशिद ने मानवीय मुद्दों को लेकर कहा कि पाकिस्तान ने इंटरनेशनल कम्यूनिटी से अफगानिस्तान को मानवीय सहायता प्रदान करने का अनुरोध किया है. पाकिस्तान यह कतई नहीं चाहता कि युद्ध से तबाह देश में कोई भूख से मरे. गौरतलब है कि शेख राशित अपने विवादित बेतुके बयानों को लेकर जाने जाते हैं. पिछले हफ्ते भी उन्होंनें स्कैंडिनेवियाई देशों को लेकर बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि दुनिया को यह उम्मीद बिल्कुल नहीं पालनी चाहिएं कि अफगानिस्तान आठ दिनों में कुछ स्कैंडिनेवियाई देशों की तरह समृद्ध हो जाएगा.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button