छत्तीसगढ़

मातम के समय इस प्रकार की फोटोबाजी से क्या संदेश देना चाहते हैं बीजेपी? -कांग्रेस

मृतक परिवार जो दुख में और असहाय पीड़ा में व्याकुल था उस समय भाजपा नेता फोटो सेशन कराने में मशगूल थे

रायपुर। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह, विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, रायपुर सांसद सुनील सोनी एवं अन्य भाजपा नेता साहू परिवार से मिलने पहुंचे थे। मृतक परिवार जो दुख में और असहाय पीड़ा में व्याकुल था उस समय भाजपा नेता फोटो सेशन कराने में मशगूल थे।

भाजपा नेताओं द्वारा जारी किए गए फोटो में साफ दिख रहा है कि इन्हें साहू परिवार के दुख से किसी प्रकार का कोई लेना देना नहीं है। उनका उद्देश्य केवल और केवल अपनी राजनीति चमकाना और फोटो सेशन कराना था।

कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने भाजपा नेताओं से पूछा है कि क्या शोक और मातम के इस मौके पर जबकि मृतको की चिता की आग भी ठंडी नहीं हुई थी और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह, विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, रायपुर सांसद सुनील सोनी सहित भाजपा नेता कड़क एवं कलफदार कपड़े पहन कर मृतक परिवार के लोगों से मिलने का ढोंग करने पहुंचे थे और उनका उद्देश्य केवल और केवल फोटो बाजी करवाना था।

कांग्रेस प्रवक्ता ने पूछा कि भाजपा स्पष्ट करें कि मातम के समय इस प्रकार की फोटोबाजी से पूर्व मुख्यमंत्री, नेता प्रतिपक्ष और रायपुर सांसद क्या संदेश देना चाहते हैं? जबकि मृतक के परिजन एवं समाज के लोक शोकाकुल थे।

भाजपा नेताओं ने जो फोटो जारी की है उसमें स्पष्ट तौर पर देखना है कि मृतक के परिजन असहाय रूप से हाथ बांधे खड़े हैं और भाजपा नेता जागीरदारों की तरह बैठ कर फोटो खिंचवाने में मशगूल है।

दरअसल राजधानी रायपुर से सटे केन्द्री में साहू परिवार के पांच लोगों की दर्दनाक मौत हुई थी जिसमें दो छोटे बच्चे भी शामिल थे। प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतक कमलेश साहू ने अपने परिवार के चार लोगों का गला घोट कर हत्या किया, उसके बाद खुद आत्महत्या कर लिया।

इस घटना से पूरे प्रदेश में दुख और शोक की लहर फैल गया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने घटना को संज्ञान में लेकर जांच के निर्देश दिये और तत्काल उचित कार्रवाई के निर्देश दिए। साथ ही गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने भी परिजनों से बात करके उन्हें न्याय दिलाने का आश्वासन दिया था।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button