क्राइम

WhatsApp भी खाली करा सकता है आपका बैंक अकाउंट, SBI ने करोड़ों ग्राहकों को किया अलर्ट

अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट पर एक पोस्ट में SBI ने WhatsApp Scam के बारे में डीटेल्स शेयर की है.

नई दिल्ली. भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने करोड़ों ग्राहकों को व्हाट्सऐप फ्रॉड (WhatsApp Fraud) को लेकर अलर्ट जारी किया है. SBI ने कहा है कि साइबर क्रिमिनल अब फर्जी व्हाट्सऐप मैसेज और कॉल (Fake WhatsApp messages and calls) के जरिये ग्राहकों को निशाना बना रहे हैं. इसके जरिए वो लोगों का बैंक अकाउंट खाली कर रहे हैं. SBI के मुताबिक व्हाट्सऐप पर एक छोटी सी गलती आपके बैंक खाते में सेंध लग सकती है. दरअसल, साइबर अपराधी व्हाट्सऐप पर कॉल या फिर मैसेज करके आपके बैंक अकाउंट से पैसा उड़ा सकते हैं. अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट पर एक पोस्ट में SBI ने WhatsApp Scam के बारे में डीटेल्स शेयर की है.

साइबर ठग कैसे देते हैं लोगों को झांसा?

SBI ने चेतावनी दी है कि साइबर क्रिमिनल व्हाट्सऐप कॉल और मैसेज के जरिये ग्राहकों को अप्रोच कर रहे हैं. ये फ्रॉड ग्राहकों से किसी लॉटरी या प्राइज जीतने की बात कहते हैं. इसके बाद वे ग्राहकों से एक फर्जी SBI नंबर पर कॉल करने को कहते हैं. ये साइबर ठग ग्राहकों से कहते हैं कि अवॉर्ड के पैसे पाने के लिए बैंक डिटेल शेयर करना अनिवार्य है.

लॉटरी स्कीम या लकी ड्रॉ नहीं चला रहा SBI

ये ग्राहकों को भरोसा दिलाते हैं कि इन डिटेल्स के जरिये ही उनके बैंक अकाउंट में पैसे ट्रांसफर किए जाएंगे. SBI ने साफतौर पर अपने ग्राहकों से कहा है कि कंपनी किसी तरह की कोई लॉटरी स्कीम या लकी ड्रॉ नहीं चला रही है. न ही बैंक किसी तरह का कोई गिफ्ट दे रही है. इसलिए ग्राहकों को सलाह है कि वे व्हाट्सऐप पर आने वाली इन फेक कॉल या फॉरवर्डेड मैसेज पर भरोसा नहीं करें.

बैंक फोन पर डिटेल नहीं मांगता

SBI ने ग्राहकों से कहा कि बैंक कभी ग्राहक को फोन करके उनके बैंक अकाउंट की पर्सनल डीटेल नहीं मांगता है. ऐसे में यदि कोई व्यक्ति व्हाट्सऐप कॉल या मैसेज या फिर फोन करके और ईमेल के जरिए इस तरह की जानकारी मांगता है तो तुरंत सावधान हो जाएं. आपसे ठगी का प्रयास किया जा रहा है.

SBI ने सभी ग्राहकों को अलर्ट करते हुए इस तरह की ठगी से बचाने के लिए अन्य लोगों को भी जागरूक करने की सलाह दी है. आपको बता दें कि इसी महीने की शुरुआत में SBI ने ग्राहकों को फिशिंग ईमेल के बारे में सतर्क रहने को कहा था.

ठगी से बचना है तो अपनाएं ये तरीके

अपना बैंक डिटेल्स, पिन कोड या पासवर्ड किसी के साथ साझा नहीं करें. अपने ID कार्ड की तस्वीर, क्रेडिट कार्ड या सेंसिटिव डॉक्यूमेंट किसी को नहीं दें.

अपने नेटबैंकिंग अकाउंट को पब्लिक Wi-Fi पर लॉग इन नहीं करें. हो सकता है कि हैकर ने नेटवर्क को इनफेक्टेड किया हुआ हो और आपकी निजी जानकारी हैक हो जाए.

गैर जरूरी लिंक्स, इमेज, GIFs आदि पर क्लिक करने से बचें.

अगर कोई आपसे निजी जानकारी मांगता है और लॉटरी आदि के बारे में बात करता है तो बैंक से संपर्क करें. बैंक स्टाफ कभी भी आपसे OTP या कोई निजी जानकारी नहीं मांगता है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button