राष्ट्रीय

वॉट्सऐप मेसेज फॉरवर्ड – भारतीय यूजर्स के लिए नया नियम लागू

देश में लिचिंग की घटनाएं बढ़ने के बाद बदला नियम

नई दिल्ली: वॉट्सऐप ने बुधवार को ऑफिशल तौर पर भारतीय यूजर्स के लिए मेसेज फॉरवर्ड करने की लिमिट तय कर दी है। फेक न्यूज और भड़काऊ कॉन्टेंट को काबू करने के इरादे से इस कदम को उठाया गया है। हाल ही में देश में लिचिंग की घटनाएं बढ़ने के बाद इस सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म की काफी आलोचना की गई थी।

भारत के 20 करोड़ यूजर्स पर लागू
वॉट्सऐप ने मेसेज फॉरवर्ड करने की लिमिट को खासतौर पर भारत के 20 करोड़ यूजर्स पर लगाया है। जुलाई में इस कदम को उठाए जाने की घोषणा की गई थी, अब इसे लागू कर दिया गया है। कंपनी की ओर से इस संबंध में बयान जारी करते हुए कहा गया, ‘वॉट्सऐप के करंट वर्जन का इस्तेमाल करने वाले यूजर्स के ऐप में यह बदलाव इस हफ्ते से दिखना शुरू हो गया है। वॉट्सऐप एक नया विडियो भी पब्लिश करने जा रहा है जिसमें फॉरवर्ड लेबल की अहमियत को बताया जाएगा। साथ ही इसकी अपील की जाएगी की यूजर्स किसी भी मेसेज को फॉरवर्ड करने से पहले उसे डबल चेक जरूर करें।’

सिर्फ पांच लोगों को ही एक साथ भेज सकते हैं मेसेज
अब अगर आप वॉट्सऐप पर एक मेसेज को किसी छठे व्यक्ति को फॉरवर्ड करने की कोशिश करेंगे तो ऐप इसकी जानकारी देगा कि आप सिर्फ पांच लोगों को ही एक साथ मेसेज भेज सकते हैं। हालांकि, मेसेज पर वापस आकर यूजर फिर से उसे पांच लोगों या ग्रुप को फॉरवर्ड कर सकेगा। वॉट्सऐप का यह नया कदम मेसेज को फैलने से नहीं रोकता, लेकिन यह फॉरवर्ड करने के स्टेप को यूजर्स के लिए कठीन जरूर बना देता है।

बता दें कि हाल के दिनों में ऐसी कई खबरें सामने आईं जिनमें वॉट्सऐप पर फर्जी मेसेज या विडियो देखने के बाद लिंचिंग की घटनाएं हुईं और उसमें कई जिंदगियां चली गईं। कुछ ही दिन पहले यह सामने आया था कि वॉट्सऐप पर बच्चा चोरी की अफवाहों के कारण 10 राज्यों में करीब 22 लोगों की भीड़ ने जान ले ली।

jindal