व्हाट्सएप पेमेंट फीचर सुरक्षा के लिहाज से बड़ा खतरा : विजय शेखर शर्मा

व्हाट्सएप के डिजीटल पेमेंट सिस्टम को लॉन्च करने के बाद देश की सबसे बड़ी डिजीटल पेमेंट कंपनी पेटीएम (Paytm) व्हाट्सएप के खिलाफ अपील दायर करने की तैयारी में है

व्हाट्सएप के डिजीटल पेमेंट सिस्टम को लॉन्च करने के बाद देश की सबसे बड़ी डिजीटल पेमेंट कंपनी पेटीएम (Paytm) व्हाट्सएप के खिलाफ अपील दायर करने की तैयारी में है. पेटीएम के संस्थापक और सीईओ विजय शेयर शर्मा ने कहा कि व्हाट्सएप के डिजीटल भुगतान सर्विस करने के खिलाफ उनकी कंपनी यूपीआई के पास अपील दायर करेगी. उन्होंने कहा कि इंस्टेंट मैसेजिंग एप व्हाट्सएप ने डिजिटल पेमेंट के क्षेत्र में शुरुआत करने के लिए कई अनुचित तरीकों का इस्तेमाल किया है.

[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”अगर आप पढ़ना नहीं
चाहते तो क्लिक करे और सुने”]

नियमों का पालन नहीं किया
विजय शेखर शर्मा ने व्हाट्सएप के नए फीचर को सुरक्षा के लिहाज से बड़ा खतरा बताते हुए कहा है कि व्हाट्सएप के इस फीचर शुरू होने के कारण डिजिटल लेनेदेन की सुरक्षा पर सवाल उठ सकता है. उन्होंने आरोप लगाया कि व्हाट्सएप ने डिजिटल पेमेंट के क्षेत्र में उतरने के लिए नियमों का पालन नहीं किया है. पेटीएम के सीईओ ने कहा कि व्हाट्सएप से पैसे भेजने के लिए लॉग-इन और आधार कार्ड की अनिवार्यता नहीं की गई है.

पेटीएम ने इसके खिलाफ नेशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) में शिकायत दर्ज कराने की बात कही है. गौरतलब है कि यूपीआई सिस्टम को एनपीसीआई ने ही तैयार किया है. पेटीएम के सीईओ ने कहा कि व्हाट्सएप ने अपनी जरूरत के हिसाब से नियमों में फेरबदल किया है. उन्होंने कहा कि व्हाट्सएप ने इसका ट्रायल शुरू कर दिया है. लाखों यूजर्स को व्हाट्सएप पेमेंट फीचर को ट्रायल के तौर पर इस्तेमाल करने की आजादी दी गई है जबकि ट्रायल में 5 से 7 हजार लोगों को ये अनुमति मिलती है.

गौरतलब है कि मौजूदा समय में भारत में 20 करोड़ व्हाट्सएप यूजर्स हैं. ऐसे में व्हाट्सएप का नया फीचर आने के बाद पेटीएम को बड़ा नुकसान हो सकता है.

new jindal advt tree advt
Back to top button