‘वैलेंटाइन डे’ : सवाल पूछे जाने पर पंकज त्रिपाठी ने दिया करार जवाब, कहा…

नई दिल्ली: मिर्जापुर के बाद फिर से चर्चा में आए पंकज त्रिपाठी ने सोशल माडिया में एक पोस्ट किया है जो काफी चर्चे में हैं. ‘बरेली की बर्फी’, ‘स्त्री’, सैक्रेड गेम्स जैसी फिल्मों में छाप छोड़ने के बाद ‘मिर्जापुर’ के ‘कालीन भैया’ बनकर पंकज लोगों के दिलोदिमाग में छा गए हैं.

उन्होंने नेशनल अवार्ड्स जीते हैं और बड़ी एवं छोटी दोनों स्क्रीनों पर शानदार अभिनय किया है. बॉलीवुड में सालों से काम कर रहे हैं. पिछले कुछ महीनों में उनका अभिनय देखने के बाद अब कोई चूकना नहीं चाहता. पंकज त्रिपाठी के डायलॉग्स उनके अभिनय में जान फूंकने का काम करती है.

वहीं उनके प्रशंसक, ‘वैलेंटाइन डे’ को लेकर त्रिपाठी की राय जानने के इच्हुक थे. इसलिए उन्होंने अपने फेसबुक पेज पर एक पोस्ट करते हुए लिखा, “वैलेंटाइन डे’ को लेकर कुछ लोगों ने मैसेज किया है और मेरा ओपिनियन जानना चाहा है. मेरा मानना है कि ये सुहानी मौसम फिजाओं में प्रेम रंग घोलती है. अलग-अलग संस्कृतियों में अलग तरीके से इसे सेलिब्रेट किया जाता है. बचपन से हमने वसंत ऋतु का साहित्य पढ़ा है.

आप भी समय निकालिए और पढ़कर देखिए. अज्ञेय, निराला, पंत, रघुवीर सहाय, केदारनाथ सिंह, जायसी और किसने नही लिखा है इस ऋतु पर. इस समय में हवाओं, फूलों की छटा को कभी महसूस करके देखिए. दुनिया प्रेम से चलती है. एक दूसरे के प्रति आस्था, विस्वास, सम्मान और प्रेम समाज को बेहतर बनाता है. इसे नाम चाहे जो भी दीजिए फर्क नहीं पड़ता.”

वही उनकी बात करें तो पंकज इन दिनों ”सेक्रेड गेम्स के सीजन 2”, अमेजन प्राइम के ”मिर्जापुर के सीजन 2”, और कार्तिक आर्यन और कृति सेनन के साथ दिनेश विजान की ”लुका छुपी” को लेकर काफी व्यस्त हैं.

Back to top button