मनोरंजन

जब ‘हमको चाहिए आजादी’ के नारे में समर्थन देकर चुपचाप निकली दीपिका

10 जनवरी को रिलीज होने वाली 'छपाक' का बायकॉट करने की मांग

नई दिल्ली: अपनी अपकमिंग फिल्म ‘छपाक’ के प्रमोशन के सिलसिले में बॉलीवुड एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण दिल्ली आई हुई हैं. इसी बीच फिल्म एक्ट्रेस ने शाम करीब 7:45 बजे अचानक जेएनयू पहुंचकर सबको चौंका दिया. जेएनयू में काले कपड़े पहनकर पहुंचीं दीपिका करीब 10-15 मिनट तक प्रदर्शनकारी छात्रों के बीच रहीं. हालांकि, इस दौरान वह कुछ भी कहने से बचती रहीं.

वहीं दीपिका कन्हैया कुमार व अन्य छात्रों के प्रोटेस्ट में शामिल हुईं. यहां उन्होंने JNU की अध्यक्ष आइशी घोष से भी मुलाकात की. यहां दीपिका ने कन्हैया कूमार और जेएनयू छात्रसंघ की अध्यक्ष आइशी घोष से बातचीत भी की. इस दौरान दीपिका के सामने ‘हमको चाहिए आजादी’ के नारे भी लगे, दीपिका चुपचाप समर्थन दिखा कर निकल गईं.

दीपिका के जेएनयू से जाने के बाद #BoycottChhapaak ट्रेंड करने लगा. इस हैशटैग के साथ लोग ट्वीट करने लगे कि उन्होंने देश को तोड़ने वाली ताकतों का समर्थन किया है. वह भी चाहती हैं देश के टुकड़े हो जाएं. लोग उनकी 10 जनवरी को रिलीज होने वाली ‘छपाक’ का बायकॉट करने की मांग करने लगे.

एक यूजर ने लिखा कि दीपिका अपनी शादी की सालगिरह पर तिरुपति पूजा करने गईं, आज वह किसके साथ खड़ी हैं, जो फ्री कश्मीर, हिन्दुस्तान को तोड़ने की बात करते हैं. वहीं एक यूजर #बायकॉटछपाक हैशटैग के साथ लिखा कि दीपिका दरअसल राहुल गांधी की फैन है तो वह भी राहुल गांधी की तरह टुकड़े-टुकड़े गैंग की राजनीति को सपोर्ट करती हैं. उन्होंने दीपिका का एक वीडियो भी शेयर किया जिसमें वह कह रही हैं कि राहुल गांधी एक दिन प्रधानमंत्री जरूर बनेंगे.

Tags
Back to top button