जब सदन में राहुल गाँधी ने PM मोदी को दी झप्पी

संसद में मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में बोलते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर एक-एक कर कई सारे आरोप लगाएं और सरकार को कटघरे में खड़ा किया.

मगर एक वक्त ऐसा भी आया, जब सदन का माहौल हैरान करने वाला था. आज सदन में राहुल गांधी ने कुछ ऐसा किया, उस क्षण को जिसने देखा, उसके जहन में वह पल कैद हो गया. दरअसल, राहुल गांधी अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में बोलते हुए अचानक पीएम मोदी के करीब चले गये और उन्होंने पीएम मोदी से हाथ मिलाया और उनसे गले मिले.

राहुल गांधी देश में महिलाओं के ऊपर अत्याचार, गैंगरेप और मॉब लिंचिंग के मुद्दे पर पीएम मोदी और उनकी सरकार को घेर रहे थे और वह पीएम मोदी पर आरोप लगा रहे थे कि वह इन मुद्दों पर कभी कुछ नहीं बोलते. इसके बाद उन्होंने पीएम मोदी, बीजेपी और आरएसएस का आभार व्यक्त किया और कहा कि इन लोगों ने उन्हें कांग्रेसी होने का मतलब समझाया.

उन्होंने कहा कि पूरा विपक्ष मिलकर प्रधानमंत्री को चुनाव में हराने जा रहे हैं. आप सोचेंगे कि मेरे दिल में प्रधानमंत्री के खिलाफ गुस्सा है, क्रोध है, मगर मैं दिल से कहता हूं कि मैं प्रधानमंत्री, बीजेपी और आरएसएस का आभारी हूं, जिन्होंने मुझे कांग्रेस होने का मतलब समझाया, इन्होंने मुझे हिंदुस्तानी होने का मतलब समझाया. हिंदुस्तानी होने का मतलब है कि चाहे कोई आलोचना करे, बुरा कहे, कुछ भी कहे, कुछ नहीं कहना है. अपना काम करते जाना है.

मगर जैसे ही राहुल गांधी का अपनी बात समाप्त करने वाले थे, वैसे ही उन्होंने कुछ ऐसा किया कि सदन में किसी को इसकी उम्मीद नहीं थी. राहुल गांधी अपनी जगह से पीएम मोदी के पास गये और उनसे हाथ मिलाया और फिर गले मिले. हालांकि, इस दौरान वह कह रहे थे कि आप मुझे गाली दे सकते हैं, आप मुझे पप्पू कह सकते हैं, मगर मेरे भीतर किसी तरह की घृणा नहीं है. मैं आपके भीतर से घृणा को निकाल फेंकूंगा और प्यार भर दूंगा.

जैसे ही राहुल गांधी ने पीएम मोदी को जादू की झप्पी दी और गले लगाया, वैसे ही पूरा माहौल तालियों की आवाज से गूंजने लगा. सदन में मौजूद सभी सांसद ठहाके लगाने लगे और तालियां बजाने लगे. बता दें कि इससे पहले राहुल गांधी ने मोदी सरकार के ऊपर कई सारे आरोप लगाए और कहा कि वह अगले चुनाव में बीजेपी को हरा देंगे.

Back to top button