जब चिल्फी हाइट के प्रभावितों ने अभियंता को घेरा…तो अभियंता ने बताई अपनी पीड़ा ,बोले- कब्जाधारियों ने दी मुझे धमकी..!

अधूरे निर्माण कार्य को लेकर प्रभावितों ने खोला मोर्चा

रायपुर: शंकर नगर स्थित छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल के प्रोजेक्ट सरहद फेस-2 के अंतर्गत चिल्फी हाइट में रहवासियों को पजेशन तो दे दिया गया , लेकिन निर्माण कार्य को लेकर किये गए वादे आज भी अधूरे हैं.जिसके विरोध में वहां के प्रभावितों ने मोर्चा खोल दिया है . प्रभावितों ने मंडल के जोन क्रमांक -2 कार्यालय का घेराव कर शीघ्र निराकरण की गुहार लगाई .

प्रभावितों ने बताया कि प्रोजेक्ट के आस -पास कब्जाधारियों का भी राज है ,तो वही अधूरे निर्माण कार्य से रात को क्षेत्र में शराबियों का जमावड़ा भी लगता हैं .इधर जब प्रभावितों ने जोन क्रमांक -2 कार्यपालन अभियंता से कार्यवाही की बात कही.

तो कार्यपालन अभियंता ने मीडिया से मुखातिब होते हुए अपनी व्यथा साझा की . अभियंता संतोष साहू ने कहा कि निर्माण कार्य के पास जब वे कब्ज़ा हटाने के लिए कार्यवाही के लिए गए .तब वहां कब्जाधारियों की ओर से उन्हें ही धमकी दी गई .

इस मामले को लेकर अभियंता ने सीमांकन के लिए आवेदन भी लगाया है . उन्होंने प्रभावितों से समर्थन भी मांगा और उचित कार्यवाही का आश्वासन भी दिया .नाराज प्रभावितों ने अल्टीमेटम दिया कि यदि शीघ्र कार्यवाही नही की गई तो वे उग्र आन्दोलन करेंगे.

प्रभावितो ने आरोप लगाया कि छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल मकान के पजेशन देने के बाद अपने वादों से मुकर गया है,उन्होंने कहा कि निर्माण कार्य की प्रक्रिया और वादे रामभरोसे ही चल रहे है .

प्रभावितों ने कहा कि निर्माण के कुछ साल बाद ही मकानों में दरारें आने लगी ,प्रोजेक्ट के पहले बाउंड्रीवाल जैसी अन्य मूलभूत सुविधाओं का वादा किया गया था .अभी तक वादों के मुताबिक कोई भी काम पूरा नहीं कराया गया .

advt
Back to top button