क्या घर में बनी है पैसों की किल्लत, तो विसर्जन के पहले करें इस मंत्र का जाप

इस शुभ दिन से पहले कुछ खास मंत्रों का जाप करके कर सकते हैं गणेश जी को प्रसन्न

गणेश चतुर्थी से लेकर अभी तक देशभर में गणपति की धूम है। गणपति जी को प्रसन्न करने के लिए लोग कई तरह के उपाय करते हैं।

वहीं हम आपको आज बताने जा रहे हैं, कि गणपति विसर्जन के पहले गणपति को कैसे प्रसनेन करें कि गणपति हमे मालामाल बना दें और घर से सारी परेशानियों को दूर कर दें।

23 सितंबर को अनंत चतुर्दशी है, इस दिन बप्पा को विसर्जित कर दिया जाएगा। इस शुभ दिन से पहले कुछ खास मंत्रों का जाप करके गणेश जी को प्रसन्न कर सकते हैं।

इस मंत्र से न केवल धन-दौलत से भर जाएगा आपका घर-आंगन बल्कि लक्ष्मी भी बरसाएंगी अपनी कृपा। यदि इस मंत्र पर आप सिद्धि प्राप्त कर लेंगे तो बेपनाह संपत्ति के मालिक बन सकते हैं।

घर में चल रही पैसों की किल्लत हमेशा के लिए खत्म हो जाएगी।

मंत्र- ऊँ श्रीं गं सौम्याय गणपतये वरवरद सर्वजनं मे वशमानय स्वाहा

ये अट्ठाईस अक्षरों का लक्ष्मीविनायक गणपति मंत्र है। इस मंत्र के कम से कम 4 लाख जप करने चाहिए।

यदि आपके लिए एक ही बार में इतना लंबा जप करना संभव न हो तो आप आज से लेकर 23 सितंबर तक हर रोज़ कम से कम एक माला जाप करके बप्पा को मोदक और दुर्वा अर्पित करें।

ध्यान रखें- गणेश जी के मंत्र का जाप करने के लिए लाल चन्दन, मूंगा, स्फटिक या रुद्राक्ष की माला का उपयोग करें।

लाल चन्दन गजानन की प्रिय माला है, यह शीघ्र फलदायी है। ध्यान रखें, गणेश मंत्रों के जाप के लिए कभी भी तुलसी की माला का यूज न करें।

सुबह के वक्त पूर्व दिशा की ओर मुंह करके और सूर्यास्त के बाद उत्तर दिशा की तरफ मुंह करके जप करें।

Back to top button