छत्तीसगढ़

किसने कहा : 34 करोड़ में कैंसर अस्पताल में गरीबों का हक बेच दिया, पढ़े पूरी खबर

वेदांता मामले में कांग्रेस लगातार हो रही हमलावर

रायपुर। वेदांता कैंसर अस्पताल को लेकर प्रदेश की भाजपा सरकार पर विपक्ष कांग्रेस का हमला तेज होता जा रहा है।
वहीं वेदांता कैंसर अस्पताल के लिए जमीन आवंटन से लेकर अस्पताल संचालन तक पर सवाल उठाए जा रहे हैं। पूर्व केन्द्रीय राज्यमंत्री डॉ. चरणदास महंत ने सरकार पर सीधा हमला बोलते हुए कहा है कि नया रायपुर में वेदान्ता कैंसर रिसर्च अस्पताल के लिए बालको वेदान्ता को 50 एकड़ जमीन मात्र 1 रुपए प्रति वर्गफुट की टोकन राशि पर दिया गया, लेकिन बाद में एक नाटकीय घटनाक्रम में पेनाल्टी वसूलकर वेदान्ता अस्पताल में गरीबों को मिलने वाली सुविधा से वंचित कर प्रदेश की रमन सरकार ने महज 34 करोड़ में गरीबों के हक पर डाका डाला है।

सरकार बताए गरीबों का मुफ्त इलाज होगा या नहीं

डॉ. महंत यहीं नहीं रुके, उन्होंने कहा कि वेदान्ता को कैंसर अस्पताल बनाने राज्य सरकार द्वारा बालको वेदान्ता को जमीन इस शर्त के साथ उपलब्ध कराई गई है कि यहां गरीबों का ईलाज मुफ्त में किया जाना है। वेदांता प्रबंधन जिससे कि उसके अधीनस्थ कार्यरत मजदूर, श्रमिक वर्ग रुष्ट हैं, इससे एक नाटकीय घटनाक्रम के तहत विलंब का बहाना देकर 34 करोड़ की पेनाल्टी भाजपा की रमन सरकार ने ठोकी दी वहीं उसके अगले दिन इस अस्पताल का लोकार्पण कर दिया गया, यह जानकर भी कि इस अस्पताल में गरीबों को मुफ्त ईलाज की सुविधा नहीं होगी।

डॉ. महंत ने कहा है कि बालको से किए गए समझौते में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने गरीबों के हक पर डाका डाला है। सरकार और इसके मुखिया को यह बताना चाहिए कि वेदान्ता कैंसर अस्पताल में गरीबों का ईलाज मुफ्त में होगा या नहीं? आखिर ऐसी क्या वजह रही कि गरीबों का हक 34 करोड़ में बेच दिया गया? डॉ. महंत ने कहा कि भाजपा की यह सरकार शुरू से ही गरीबों, किसानों, मजदूरों की विरोधी रही है और हमेशा से ही उद्योगपतियों, पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने वाले निर्णय लेती रही है। वेदान्ता कैंसर रिसर्च अस्पताल के मामले में एक बार फिर भाजपा सरकार का गरीब विरोधी चेहरा उजागर हुआ है।

बालको की मनमानी को बढ़ावा दे रही है सरकार

डॉ. महंत ने कहा कि लगातार प्रदेश की भाजपा सरकार बालको की मनमानी व श्रमिक विरोधी निर्णयों पर कवच का कार्य कर रही है और वेदान्ता को मनमानी करने की छूट दे रही है। भाजपा की सरकार ने पहले कौड़ियों के दाम देश की शान बालको को अनिल अग्रवाल के हाथ 551 करोड़ में बेच दिया। अब प्रदेश की बीजेपी की सरकार ने गरीबों के हक पर डाका डालते हुए 50 एकड़ जमीन फिर एक बार कौड़ियों के दाम बेच दिया है।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *