रिश्ते की शुरुआत करने से क्यों डरती है लड़कियां?

असल में वह रिजेक्शन का सामना करने से डरती है लेकिन लड़के बिंदास होते हैं

लड़के किसी खूबसूरत लड़की को देख लें तो बस उसे प्रपोज करने का बहाना ढूंढते रहते हैं। मगर लड़कियों के साथ ऐसा नहीं है। प्यार हो जाने पर भी लड़कियां चाहती है कि लड़के ही पहले अप्रोच करें।

लड़कियों का लड़कों से रिश्ते की शुरूआत करने की उम्मीद करने के पीछे कई कारण हैं। चलिए जानते हैं कि आखिर ऐसे क्या कारण है, जिसकी वजह से लड़कियां रिश्ते की शुरूआत करने से डरती हैं।

1. रिजेक्शन का डर

लड़कियों का पहल न करने का सबसे बड़ा कारण है रिजेक्शन का डर। असल में वह रिजेक्शन का सामना करने से डरती है लेकिन लड़के बिंदास होते हैं और उन्हें पता है कि रिजेक्शन को किस तरह हैंडल करना है।

2. वो मेरे बारे में क्या सोचेगा?

लड़कियों को कोई जज करें ये उन्हें कतई पसंद नहीं होता। यही वजह है कि वह लड़को को अप्रोच नहीं कर पाती। सामने वाला उनके बारे में क्या सोचेगा ये सोचकर वह खुद को रोक लेती है।

3. अगर वो पहले ही रिलेशनशिप में हुआ तो?

उस शख्स के किसी और के साथ पहले से ही रिलेशनशिप में होने का ख्याल भी महिलाओं को आगे बढ़ने से रोक देता है। लड़कियां इन सवालों में खुद को उलझाकर भी आगे बढ़ने की हिम्मत नहीं कर पाती।

4. खुद से जज करना

लड़कियां देखती है कि अगर वह उनसे हर मामले में बेहतर है तो वो खुद ही पीछे हट जाती है। लड़कियों की यही सोच उन्हें अपनी मन की बात कहने से रोक देती है।

5. अगर उसका स्वभाव अच्छा न हुआ तो?

मौजूदा समय में लड़कियां चाहती है कि पार्टनर उन्हें प्यार के साथ सम्मान भी दें। लड़कियों के मन में डर रहता है कि अगर वह सिर्फ अच्छा दिखता हो स्वभाव ठीक न हो तो। उनके मन ये सवाल दौड़ता रहता है और वह रिश्ते की पहल नहीं कर पाती।

Back to top button