भाजपा क्यों प्रदेश की बेटियों के इंसाफ के लिये आवाज नहीं उठाते

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह

रायपुर:भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने अोडिशा के कोरापुट जिले मे नाबालिक लडकी के साथ सामुहिक दुष्कर्म के मामले की जांच के लिए कमेटी बनाई है। इस कमेटी मे पार्टी की महासचिव सरोज पांडेय को भी जिम्मेदारी साैपी गई है। बच्ची को न्याय मिले बहुत ही अच्छी बात है। छत्तीसगढ़ प्रदेश महिला कांग्रेस अध्यक्ष फूलोंदेवी नेताम ने कहा कि छत्तीसगढ़ के बस्तर मे दिन प्रतिदिन बलात्कार अनाचार की घटनाएँ घटित होती रहती हैं। उसके लिये भाजपा के विधायक एवं पदाधिकारी कब आवाज उठायेंगे आैर कब जांच करायेंगे।

राष्ट्रीयअपराध अनुसंधान ब्यूरो के आंकडों के अनुसार छत्तीसगढ़ महिलाओं की सुरक्षा की द्रष्टि मे सर्वाधिक असुरक्षित राज्य है। राष्ट्रीय महिला आयोग ने भी छत्तीसगढ़ मे प्रतिदिन आैसतन तीन आदिवासी महिलाओं के साथ बलात्कार की घटनाआें की पुष्टि की है।

बस्तर मे आदिवासी महिलाओं की स्थिति बहुत ही दयनीय है। छत्तीसगढ़ मे बलात्कार की घटनाएँ सबसे ज्यादा आदिवासी इलाके मे घटित हुआ है। भाजपा शासन मे महिलाओं के साथ दुष्कर्म कर हत्या के मामले बढे है। मडकम हिडमे की हत्या के बाद उसे नक्सलियों की नई वर्दी पहना दी गई। मामले की सुनवाई हाईकोर्ट मे चल रही है। मीना खलको के साथ बलात्कार व हत्या के मामले मे आयोग के फैसले के पांच साल बाद भी पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार नही किया गया, यहां तक की उनको नाैकरी से भी नही निकाला गया।भाजपा के शासन मे आदिवासी गरीब महिलाओं की तस्करी बढ़ी। छत्तीसगढ़ के करीब 27 हजार लड़कियाँ लापता हैं। आदिवासी इलाके से लड़कियों को बहकाकर बाहर ले जाकर बेच देने के मामले पर रोक के लिये कुछ न किया जाना। लोगों के शिकायतों का संज्ञान नहिं लेती पुलिस एवं उल्टा शिकायतकर्ता को विभिन्न तरीकों से प्रताड़ित करते। एवं भाजपा सरकार आरोपियों को बचाने की कोशिश मे लगी रहती हैं।

1
Back to top button